पुलिस कस्टडी में युवक की संदिग्ध मौत, पीट-पीटकर हत्या का आरोप

Spread the love

बाहरी दिल्ली के मुंडका में पुलिस कस्टडी में एक युवक की संदिग्ध हालात में मौत का मामला सामने आया है। युवक की पहचान मुकेश (26) के रूप में हुई है। परिजनों ने पीट-पीटकर हत्या का आरोप लगाया है। वहीं, पुलिस ने मौत की वजह तबीयत खराब होना बताई है। हालांकि, मुकेश पर आरोप है कि 19 जुलाई को दूसरे समुदाय की नाबालिग लड़की को बहला फुसलाकर अपने साथ ले गया था। रविवार को जयपुर पुलिस ने दोनों को पकड़ लिया था। मुंडका थाना पुलिस मुकेश और लड़की को दिल्ली लाई और नाबालिग लड़की को अगवा करने के आरोप में मुकेश को हिरासत में लिया। सोमवार सुबह संदिग्ध परिस्थितियों में उसकी मौत हो गई। मामले में मैजिस्ट्रेट जांच के आदेश हुए हैं। मेडिकल बोर्ड की निगरानी में शव का पोस्टमॉर्टम कराया जाएगा

इस मामले में डीसीपी सेजू पी कुरुविला ने बताया कि मुकेश के साथ किसी भी तरह की मारपीट नहीं की गई थी। डॉक्टरों ने पुलिस को जांच-पड़ताल के बाद बताया है कि मुकेश को टीबी थी। शव का पोस्टमॉर्टम डॉक्टरों के मेडिकल बोर्ड द्वारा किया जाएगा। रिपोर्ट आने के बाद मौत के सही कारणों का भी पता चल जाएगा। फिलहाल इस मामले में दोनों पक्षों का बयान ले लिया गया है और आगे की कार्रवाई की जाएगी।

जानकारी के मुताबिक, मुकेश परिवार समेत मुंडका इलाके में रहते थे। परिवार में बड़ा भाई मनोज व मां विमला देवी हैं। पिता बनवारी लाल का निधन हो चुका है। मुकेश की शादी हुई थी, लेकिन पत्नी ने छोड़ दिया। मुकेश का गांव में दूसरे समुदाय की एक लड़की से प्रेम प्रसंग चल रहा था। 19 जुलाई को मुकेश उस लड़की के साथ गायब हो गए। इस संबंध में लड़की के परिजनों ने मुंडका थाने में नाबालिग के अपहरण की शिकायत दी।

चूंकि मुकेश का परिवार मूल रूप से राजस्थान का है। पुलिस को भी मुकेश की लोकेशन राजस्थान में मिल रही थी। जयपुर पुलिस ने इनपुट के आधार पर लड़की समेत मुकेश को पकड़ लिया। मुकेश के परिजनों का आरोप है कि जब सुबह उसके भाई को लेकर पुलिस दिल्ली आ गई थी तो इसकी जानकारी परिजनों को क्यों नहीं दी गई। परिवार का आरोप है कि लड़की के परिजनों की शह पर मुकेश की पिटाई की गई। आरोप यह भी है कि वह लड़की को भगाकर नहीं ले गया था, जबकि वह खुद उसके साथ गई थी। लड़की बालिग है।

%d bloggers like this: