सांसद और विधायक अपने निजी पैसे से जनता की मदद करें : पंडित जगदीश शर्मा

Spread the love

कांग्रेस नेता और राहुल प्रियंका गाँधी सेना के राष्टीय अध्यक्ष पंडित जगदीश शर्मा ने कहा की कोरोना वायरस महामारी की वजह से देश संकट मे है और संकट की इस घडी में सभी लोग जरुरतमंदो की मदद के लिए आगे आ रहे है | राहुल प्रियंका गाँधी सेना ने पूरे देश में राहत अभियान चलाया हुआ है और हमारे सांसद और विधायक भी बढ़-चढ़कर दान दे रहे हैं पर वह तो अपनी सांसद निधि व विधायक फण्ड से दे रहे हैं परन्तु अच्छा होता की वह अपनी निजी कमाई से दान देते |

नहीं तो यह सरकार का पैसा सरकार को ही वापिस कर दे रहे हैं | उन्होंने कहा की देश मे लगभग 545 साँसद, 245 राज्यसभा सांसद, 4120 विधायक है। कुल मिलाकर
लगभग 4910 जनप्रतिनिधि।अगर यह सारे जनप्रतिनिधि मिलकर अपने व्यक्तिगत खातों मे से पैसे भारत सरकार को दे। तो भारत देश को कोरोना महामारी से लड़ने के लिए काफी बड़ी मात्रा में रुपये इकट्ठे हो सकते हैं।

पंडित जगदीश शर्मा ने कहा की क्यों हर बार देश का मध्यम वर्गीय परिवार के लोगों से ही देश की मदद की अपील की जाती है ? क्या इन राजनेताओं की कोई जिम्मेदारी और जवाबदेही नही है भारत देश के जनता के प्रति? आखिर क्यों यह माननीय साँसद और विधायक अपनी अपनी साँसद और विधायक निधि के पैसों को ही खर्च कर ही देश के सच्चे जनप्रतिनिधि होने का प्रमाण प्रस्तुत कर अपने कर्तव्य से पल्ला झाड़ लेते है ?

जबकि वो पैसा जनता द्वारा ही सरकार को टैक्स के रूप मे देश को चलाने और विकास के लिए दिया जाता है । इसलिए मैं जनप्रतिनिधियों से यह अपील करता हु की वो अपने व्यक्तिगत खातों से 5-5 लाख रुपये देश की सेवा के लिए दान करे। जिससे देश की जनता को इस बिपत्ति के समय में आर्थिक व स्वास्थ्य कार्यों के लिये पैसों का इंतजाम हो सके।

%d bloggers like this: