वतन की आवाज: दिल्ली में आक्सीजन घोटाला।

Spread the love

देश भर में आक्सीजन को लेकर आरोप प्रत्यारोप का दौर जारी है। कुछ ऐसे लोग है जो आपदा को अवसर में बदल दिया है जिसमें से दिल्ली के सीएम अरविन्द केजरीवाल का नाम सबसे पहले है। दूसरी में सीबीआई ने 100 करोड़ वसूली के मामले में महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ किया एफआईआर, ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीओं कुछ दिनों से है लापता, खोजकर लाने वालों को मिलेगा एक 1000 की नकद ईनाम। कांग्रेस नेता सुरजेवाला ने कहा, भारत मे कोविड का इंजेक्सन सबसे महंगा है। उत्तर प्रदेश सरकार अब धर पर आईसोलेट लोगों को भी आक्सीजन सिलेण्डर देगी, दिखाना होगा डाक्टर की पर्ची। आक्सीजन पहुँचाने में बाधा डालने वालों को सुनायी जायेगी फांसी की सजा: दिल्ली हाईकोर्ट

सीबीआई नें आज अनिल देशमुख महाराष्ट्रा के पूर्व गृह मंत्री के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर लिया है। मामला वही है करोड़ वसूली की। लेकिन मेंरा क्या? मै क्यों किसी से कहूँ कि देशमुख जी वही मंत्री है जिन पर स्वयं मुंबई पुलिस नें वसूली के लिए 100 की टारगेट देने की आरोप लगाया है। आपको तो पता होगा ही लेकिन मै एक बार फिर में बता दूँ कि इस केस से मेरा कोई भी लेना देना नही है।

माननीय न्यायालय ने दिल्ली सरकार को सुनायी खरी खोटी लेकिन बेशर्म सरकार उसको क्या फर्क पड़ता है। माननीय दिल्ली उच्च न्यायालय नें आक्सीजन की आपूर्ति में बाधा डालने वालों को सख्त चेतावनी देते हुए कहा है कि आक्सीजन के आपूर्ति में बाधा डालने वालों को फांसी की सजा सुनाई जायेगी।

अब जो भाई बार्डर पर बैठकर रोजा इफ्तारी कर रहे है उनके ऊपर है कि इस आदेश को कैसे समझते है। क्योंकि उनके कारण ही आज दिल्ली वालों के जान खतरे में है। दिल्ली को आक्सीजन की जरूरत है। लाखो की संख्या में कोविड पैसेंट अस्पताल में भर्ती है जिसको आक्सीजन की जरूरत पड़ रही है। लेकिन दोनो बार्डर बंद होने के कारण 100 किलोंमीटर की ज्यादा चक्कर लगाना पड़ता है जिसके कारण 4 घंटे की देऱी से आक्सीजन अस्पताल तक पहुँच रही है।

गाजीपुर बार्डर पर टिकैत महाराज और सिंघु बार्डर पर सरदार जी बैठे है। लेकिन माननीय न्यायालय ने थोड़ा सा अनदेखी कर दिया है। आखिर इनको खाद पानी देने वाली भी तो केजरीवाल सरकार ही है। जो दिल्ली के पानी पीकर दिल्ली वालों के लिए आफत बना हुआ है। मरीज के लाइफ लाईन आक्सीजन को आने से रोक रहा है।

खैर केजरीवा को दिल्ली से या दिल्ली वालों से क्या लेना। फ्रि बिजली पानी का वादा किया था आक्सीजन का थोड़े ही किया था। ऐसे भी दिल्ली के मुख्यमंत्री को दिल्ली से ज्यादा पंजाब से लगाव है। केजरीवाल दिल्ली के मुख्यमंत्री कम पंजाब के ज्यादा लगते है। केजरीवाल आपदा में अवसर की तलाश करने में लगे है। खैर यह तो पंजाब वालों को सोचना है कि मुख्यमंत्री चाहिए या नौटंकी कंपनी।

बीजेपी वालों को भी केजरीवाल के टीवी पर आना पसंद नही पड़ता। भाई जनता के अगर नौटंकी कंपनी को हाथ लग जाय तो वह क्या करेगा। आप जरा सोचों । अगर डफली गैंग का साथ मिल जाय तो और सोने पर सुहागा हो जाय। ये बीजेपी वाले भी मिडिया के बड़े दुश्मन है उनको बिल्कुल अच्छा नही लगता है कि मिडिया को ऐड मिल रहा है। थोड़ा मजबूरी तो समझिये जनाब कि, जिस दिन ऐड बंद उसी दिन चिल्ला, चिल्ला कर रावर्ट बाड्रा वाली 165 पेज की फाईल मांग ली जायेगी। अब कुछ करना तो है नही आकर अपना टीवी पर ही बैठ जाओं कंजरीवाल जी। तू भी खुश और मै भी खुश।

खैर अब पता चला है कि केन्द्र सरकार नें 8 आक्सीजन प्लांट लगाने के लिए केजरीवाल सरकार को पैसे दिए थे जिसमें से 1 प्लांट लगाया और 7 की पैसे टीवी ऐड में दे दिया। मेरा क्या जाने दिल्ली के केजरीवाल और दिल्ली के मुफ्तखोर जनता। फोन मत काटना मै केजरीवाल बोल रहा हूँ।

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीओं और जिला गौतमबुद्धनगर के कोविड नोडल अधिकारी नरेन्द्र भूषण जी काफी दिनों से लापता चल रहे है। क्षेत्र के जनता को काफी चिंता होने के बाद अधिवक्ता श्याम भाटी नें नरेन्द्र भूषण का पता बताने वाले और ढुढ़कर लाने वालों को 1000 नकद ईनाम देने की घोषणा किया है। किसी को मिले को जिला महासचिव समाजवादी पार्टी के पते पर पहुंचा दे और ईनाम के राशी सम्मान सहित प्राप्त करे।

भारत में कोरोना वैक्सीन सबसे मंहगा बेचा जा रहा है। जबकि यहाँ पर उत्पादन हो रहा है। सरकार को 150 रुपये की और अस्पतालों को 600 रुपये की बेची जा रही है। यह कहना है कांग्रेस नेता सुरजेवाल की। आपने शायद ठीक समझा वही सुरजेवाला जिनका उंगली फर्जी किसान के हस्ताक्षर करते करते सुज गया था।

एक अखबार के कटिंग को टवीट करते हुए श्री सुरजेवाला ने कई रेफ्रेंश भी दिया है। अब यहाँ पर बता दूँ कि वैक्सीन कंपनी बेच रही है और सरकार खरीद रही है। इसलिए सरकार इसमें शामिल नही है।

दूसरी बात शायद सुरजेवाला यह कह रहे है या सोच रहे है कि कंपनी अस्पताल को 150 की बेचे और फिर अस्पताल सरकार को 600 की बेचे। अस्पताल को सरकार के तरफ से लूट सुनिश्चित हो सके। आखिर सुरजेवाला को भी तो अस्पताल के मालिकों के लूट में बंदरबांट का मौका मिले। खैर अस्पताल में बेड बेच जा रहे है उससे भी कमाया जा रहा है। यकीन नही है तो आप मनमोहन सिंह से पूछ लिजिए आपको मनमोहन सिंह की कसम है।

एक बात और है कि लगता है कांग्रेस में सभी को राहुल गांधी का असर होता जा रहा है। यहाँ सरकार 150 की खरीदकर जनता को फ्रि लगवा रही है। आप सोचो आपको कौन सा लगवाना है। एक बात और राहुल जी के फटे कुर्ते में जेब नही है। वही कुर्ता जो नोटबंदी के समय में फट गया था। उसके बाद से किसी सनें कुर्ता को सिलवाया ही नही। उन्हे 600 रुपये जनधन एकाउण्ट से निकालकर दे दीजियेगा। क्योंकिं वृद्धा पेंशन तो भी लागु नही हुआ है। मोदी के इंजेक्शन लगाते ही कही मोदी मोदी न करने लगे थोड़ा ध्यान रखियेगा।

अब चिंता छोड़िये, जहाँ एक तरफ दिल्ली परेशान है वही दूसरी तरफ देश के सबसे बड़े राज्य में आक्सीजन की प्लांट लगाने क सिलसिला जारी है। अब योगी बाबा घर में आईसोलेसन होने पर भी आक्सीजन फ्रि में देगे। यानि की अब राशन के साथ आक्सीजन भी।

ऐसे भी आजकल राशन से ज्यादा आक्सीजन की जरूरत है। खासकर राजनीतिक गिद्दों और लिबरल गैंग के लिए। कुछ तो पाकिस्तानी प्रजाती भी है। ये लोग भी ले सकते है सिर्फ कागज दिखाना होगा। आप तो डर गए । मेरा मतलब था डाक्टर की पर्ची से।

खैर दुआ की कीजिए की दिल्ली वालों को भगवान सदबुद्धि दे।

%d bloggers like this: