आज का हिन्दू पंचांग

Spread the love

~ आज का हिन्दू पंचांग ~ 🌞
⛅ दिनांक 03 मार्च 2021
⛅ दिन – बुधवार
⛅ विक्रम संवत – 2077
⛅ शक संवत – 1942
⛅ अयन – उत्तरायण
⛅ ऋतु – वसंत
⛅ मास – फाल्गुन (गुजरात एवं महाराष्ट्र अनुसार – माघ)
⛅ पक्ष – कृष्ण
⛅ तिथि – पंचमी रात्रि 12:21 तक तत्पश्चात षष्ठी
⛅ नक्षत्र – स्वाती 04 मार्च रात्रि 01:36 तक तत्पश्चात विशाखा
⛅ योग – ध्रुव 04 मार्च रात्रि 02:41 तक तत्पश्चात व्याघात
⛅ राहुकाल – दोपहर 12:51 से दोपहर 02:19 तक
⛅ सूर्योदय – 06:58
⛅ सूर्यास्त – 18:42
⛅ दिशाशूल – उत्तर दिशा में
⛅ *व्रत पर्व विवरण –
💥 विशेष – पंचमी को बेल खाने से कलंक लगता है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)
🌞 ~ हिन्दू पंचांग ~ 🌞

🌷 सिर में जूँ एवं लीख 🌷
1⃣ पहला प्रयोगः निबौली, सरसों कि तेल लगाने से अथवा अरीठे का फेन लगाने से जूँ और लीखें मर जाती हैं।
2⃣ दूसरा प्रयोगः तुलसी के पत्ते पीसकर सिर पर लगा लें। तदुपरांत सिर पर कपड़ा बाँध लें। सारी जुएँ मरकर कपड़े से चिपक जाएँगी। दो-तीन बार लगाने से ही सारी जुएँ साफ हो जायेंगी।
🙏🏻 आरोग्यनिधि पुस्तक से
🌞 ~ हिन्दू पंचांग ~ 🌞

🌷 लक्ष्मी की चाहवाले किनसे बचें 🌷
🙏🏻 भगवान श्रीहरि कहते हैं : “जो अशुद्ध ह्रदयवाला, क्रूर, हिंसक, दूसरों की निंदा करनेवाला होता है, उसके घर से भगवती लक्ष्मी चली जाती हैं |
👉🏻 जो नखों से निष्प्रयोजन तिनका तोड़ता है अथवा नखों से भूमि को कुरेदता रहता है उसके घर से मेरी प्रिय लक्ष्मी चली जाती हैं |
🌞 जो सूर्योदय के समय भोजन, दिन में शयन तथा दिन में मैथुन करता है उसके यहाँ से मेरी प्रिया लक्ष्मी चली जाती हैं |” (श्रीमद् देवी भागवत )
🙏🏻 ऋषिप्रसाद – फरवरी २०२० से
🌞 ~ हिन्दू पंचांग ~ 🌞

🌷 मृत्यु के समय 🌷
🐄 मरते समय भी गौ के गोबर का लेप करके मुर्दे को रखो ..उसकी सद्गति होगी | मरते समय जो मर जा रहे हैं उनके मुँह में तुलसी के पत्ते रखो | गाय के गोबर के कंडे का धुआं करो तो उसके बैक्टेरिया दूसरे को नहीं सताएँगे |
🙏🏻 – पूज्य बापूजी Gorakhpur 19th April 2012

📖 हिन्दू पंचांग संपादक ~ अंजनी निलेश ठक्कर
📒 हिन्दू पंचांग प्रकाशित स्थल ~ सुरत शहर (गुजरात)
🌞 ~ हिन्दू पंचांग ~ 🌞

%d bloggers like this: