करोड़ो की घर मे न सुख न सुरक्षा, सेक्टर 75 नोएडा

Spread the love

मूल भूत सुविधाओं तथा सुरक्षा से वंचित सेक्टरवासियों ने स्पेक्ट्रम मेट्रो के सामने कि शांतिपूर्ण मार्च , 11 जनवरी को करेंगे भूख हड़ताल। प्राधिकरण से मांग कि सेक्टरों के अपने कब्जे मे लेकर करे विकास कार्य ।

नोएडा सेक्टर 75 : मूलभूत सुविधाओं से वंचित सेक्टर वासियों ने आज नोएडा स्पेक्ट्रम मेट्रो के सामने किया शांति मार्च। इस मार्च मे 100 से अधिक लोगों ने भाग लिया तथा बिल्डरों के मनमानी तथा बिगड़ते हालात के खिलाफ नारेबाजी की। प्राधिकरण के खिलाफ भी जतायी नाराज़गी। नोएडा सेक्टर 75 मे बहू मंजिला ईमारतें तो बना दी गई है

लेकिन उसको हर सुविधाओं से वंचित रखा गया है। यह मामला उस समय सामने आया जब अपेक्स एथेना के बी बिल्डिंग मे आग लग गयी और इसे बुझाने के लिए लोगों को भारी मशक्कत करना पड़ा। क्योंकि यहाँ पर कोई भी फायर सिस्टम काम नही कर रहा था। आस-पास के लोगों की मदद से आग पर काबू पाया गया।

आग लगने के बाद से लोगों में बिल्डर तथा प्राधिकरण के खिलाफ भारी गुस्सा देखने को मिला। लोगों का कहना है कि यहाँ सुख-सुविधा तो दूर सुरक्षा के नाम पर भी जीरो है। बिल्डिंग मे रहने वाले सभी लोगों मे गुस्सा के साथ-साथ डर का माहौल भी बना हुआ है। लोगो ने बताया की अपैक्स एथेना सोसाइटी में फायर का कोई भी सिस्टम काम नहीं कर रहा है और फिर भी फायर NOC मिल गयी है। सोसाइटी में मेंटेनेंस एजेंसी JLL काम कर रही है जो पूरी तरह से फेल है। न तो स्मोक डिटेक्टर काम करते है न ही वाटर स्प्रिंकलर। साईरन सिस्टम भी पूरी तरह से फ़ैल है। मैन लाइन को भी मैन्युअल मोड में रखा जाता है ।

सेक्टरवासियों ने इसकी लिखित शिकायत नोएडा सेक्टर 49 के थाना मे दिया है। लेकिन इस पर भी कोई कारवाई नही होते देख निराशा तथा भय की माहौल मे है। सेक्टरवासियों ने कई बार बिल्डर के नाकारात्मक कार्यशैली की खिलाफ नोएडा प्रशासन तथा प्राधिकरण को अवगत करा चुकी है।

अब करेंगे भूख हड़ताल

नोएडा सेक्टर 75 के वासियों ने अब बिल्डर तथा प्राधिकरण से दो -दो हाथ करने की ठानी है। 11 जनवरी से अपने मांग को लेकर भूख हड़ताल पर बैठेंगे। उनका कहना है कि जब ऐसे मरना है तो कुछ करके ही मरे तो अच्छा है। यह मार्च तथा भूख हड़ताल शांतिपूर्ण हो तथा इसमें सहयोग के लिए सेक्टरवासियों से मिलकर आवाज उठाने की आहवान की है।

सेक्टर मे पानी की व्यवस्था जमीन से ट्यूबेल के द्वारा पानी निकाल कर किया जा रहा है जो एनजीटी के आदेशों का खुला उल्लंघन भी है। सेक्टर 75 के प्लाट न. 9 मे तीन से चार बोरिंग किया गया है जिससे पानी निकालकर सेक्टर फ्लैटों मे सीधे सप्लाई किया जा रहा है। कई बार यह बोरिंग खराब होने के कारण कई कई दिन पानी के सप्लाई से वंचित रहना पड़ता है।

फायर डिपार्टमेंट सेक्टर २ में भी शिकायत दर्ज की है लेकिन अभी तक भी कोई कार्यवही नहीं हो रही है। जब लोगो ने JLL के मैनेजर दीपक जोशी और संदीप पाठक से फायर के सिस्टम के बारे में रिपोर्ट मांगी की यहाँ कौन कौन से सिस्टम काम कर रहे है तो उन्होंने वो भी बताने से इंकार कर दिया। यहाँ पर करीब १००० लोग रह रहे है और उनकी जान खतरे में है। JLL के फायर अफसर ऋषि की तरफ से भी कोई जानकारी नही दी गयी।
इस प्रदर्शन में सुनील सक्सेना, सुशांत यादव, वरुण मित्तल, बृशांक श्रीवास्तव, आशीष मिश्रा, राजेश अग्रवाल, प्रदीप बिस्वास , नीरज पांडेय, विजय पराशर,पुष्कर सिंह, शिवानी, दीप्ती वशिष्ठ, सुनीता सिन्हा , राकेश बब्बर, उमेश अग्रवाल, सौरभ अग्रवाल,विपिन जैन, श्याम मुरारी व अन्य शामिल थे.

%d bloggers like this: