वैक्सीन निर्माता कंपनी सिर्फ 50 प्रतिशत वैक्सीन केन्द्र को देगा।

Spread the love

बढते कोरोना के बीच वेक्सीन निर्माता कंपनी के तरफ से बड़ी घोषणा की गयी है केन्द्रिय स्वास्थ्य सचिव के द्वारा जारी ब्यान में कहा गया है कि बांकि के 50 प्रतिशत वैक्सीन विभिन्न मेडिकल अस्पतालों तथा राज्य सरकार को दिये जायेगें।

कोरोना स्टेटस की जानकारी देते हुए केन्द्रिय स्वास्थ्य सचिव श्री राजीव भूषण ने बताया है कहा कि अभी तक देश में 13 करोड़ लोगों को कोरोना इंजेक्शन दिया जा चुका है। पहले उन लोगों को शामिल किया गया जिन पर कोरोना का असर ज्यादा होने का संभावना है। जिसमें मेडिकल तथा उनसे जुड़े लोग और 45 वर्ष से अधिक के लोग शामिल है। हमारा फोकस उन पर था जिसकों वेक्सीनेसन करने से मृत्यु दर घटती है।

16 जनवरी से अब तक 13 करोड़ लोगों का वैक्सीनेशन किया जा चुका है। अब 1 मई से 18 वर्ष से ज्यादा यानि बालिग लोगों को कोरोना का वेक्सीनेशन किया जायेगा। इसी बीच मे कोरोना भी अपने चरम पर है। रिपोर्ट के मुताबिक अब दैनिक 2.74 लाख मरीज आ रहे है। जिसमें सबसे ज्यादा महाराष्ट्रा और दिल्ली है।

स्वास्थ्य सचिव के मुताबिक अब वेक्सीनेसन उत्पादक कंपनियाँ 50 प्रतिशत वैक्सीन केन्द्र सरकार को उपलब्ध करायेगी। जबकि 50 प्रतिशत इंजेक्शन विभिन्न चैनलों के माध्यम से उपलब्ध करायेगी। जिसमें हास्पिटल और राज्य सरकार को दिये जायेंगे। उन्होने ये भी कहा कि इसका मतलब यह नही समझे की इंजेक्शन फार्मेसी का दुकान पर मिलेगा। वहाँ पर बिल्कुल नही मिलेगा, इसका आर्डर हास्पिटल दे सकता है।

अब आम जनता के लिए भी आसानी से वेक्सीन मिल पायेगा, इसका उम्मीद करना निहायत ही मुर्खता होगा। क्या अस्पताल इंजेक्शन का ब्लैक मार्केटिंग नही करेगा ? जिस प्रकार से रेमिडिसिवर का किया जा रहा है। हालाँकि विशेषज्ञ का यह भी कहना है कि यह इंजेक्शन उतना कारगर नही है। इसके बावजूद इसका ब्लैकमार्केटिंग किया जा रहा है।

%d bloggers like this: