आपके हित मे (एक विचार )

Spread the love

🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
आज मकरसंक्रांति के दिन दान की बड़ी महिमा है…. सब की अपनी अपनी मान्यताए है… इस बिच एक छोटी सी बात आप सब से करनी है….

अपनी अपनी पुरानी मान्यताओं के साथ आज से एक नयी शुरुआत कीजिये… काफी सारे लोग आज गौमाता को कुछ ना कुछ दान करने के चक्कर में होते है… कोई गौमाता को कुछ खिलाने के चक्कर में होता है कोई गौमाता के नाम पर गौशालाओ में कुछ रूपये दान करने के चक्कर में…

आप जो भी करते है वो कीजिये…लेकिन साथ में एक काम और कीजिये अगर आप सच में गौमाता के लिए कुछ करना ही चाहते है तो…. आज से आप अपने घर में सिर्फ और सिर्फ गौमाता का दूध ही पीने के लिए लेंगे और वो भी सीधे किसी गौसेवक से किसी डेयरी से नहीं ऐसा प्रण लीजिये… आज से आप किसी गौसेवक ने बनाई हुई पंचगव्य आधारित प्रोडक्ट्स का ही घर में उपयोग करेंगे ऐसा प्रण लीजिये… आज से आप एलोपथी और मेडिकल सायन्स को छोडकर अपना स्वास्थ्य सिर्फ और सिर्फ गौमाता के पंचगव्य मतलब की दूध, दही, घी, गौमूत्र और गोबर से ही अच्छा करेंगे ऐसा प्रण लीजिये…अगर आप किसान है तो आज से सारे रासायनिक खाद्य और जंतुनाशक दवाओं का त्याग कर के सिर्फ और सिर्फ गौआधारित खेती ही करेंगे ऐसा प्रण लीजिये…

क्या आप कर सकते है ऐसा….???

यकीन कीजिये सच में गौमाता को आप के दान की जरूरत नही है… क्योकि वो खुद अपने अमृततुल्य गव्यो को हमे दान करती है… वो माँ है हमारी और माँ सिर्फ देना जानती है, उसके बदले अगर आप को कुछ करना ही है तो जैसे मैंने उपर कहा वैसे सिर्फ गौमाता के अमृततुल्य गव्यो का उपयोग बढ़ाइए….

<<<<< चलते चलते >>>>>

वृद्धआश्रम, अनाथालय, अगर समाज के लिए कलंक है तो उसी तरह से गौशाला भी एक है…. गाय हमारी माता है और पहले के जमाने में एक एक घर में कई सारी संख्या में गौमाता ए रहती थी… माना की आज के जमाने में गौमाता को आप अपने घर में स्थान नही दे सकते हो लेकिन उनके अमृततुल्य गव्यो को तो स्थान दे ही सकते है….!!!

🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏

%d bloggers like this: