नाराज घर खरीदारो ने किया जमकर नारेबाजी, बिल्डर को बताया कोविड से ज्यादा खतरनाक

Spread the love

महागुन महामारी कोविड महामारी से ज्यादा खतरनाक है। घर खरीदारों नें बिल्डर के खिलाफ किया प्रदर्शन। समय-समय पर फ्राड करने का लगाया आरोप। बिल्डरों नें जंगलराज कायम किया है बिल्डर बायर एग्रीमेंट का भी धज्जियाँ उड़ा दी।

आज ग्रेटर नोएडा वेस्ट में लगभग 80 से ज्यादा खरीदारों ने साईट पर पहुँचकर हंगामा किया। उनका कहना था कि हमने 7 साल पहले घर खरीदा था लेकिन अभी तक कब्जा नही मिला, भविष्य में भी जल्दी मिलने की उम्मीद नहीं है। घर खरीदारों नें उग्र आंदोलन करने की चेतावनी भी दी है। बिल्डर नें 42 महीन मे कब्जा देने का वादा किया था। लेकिन यहाँ तो 84 महीने से भी ज्यादा हो चुका है। प्रोजेक्टर खंडहर बन चुका है।

नोएडा में घर खरीदारों की हालत कोविड मरीज से ज्यादा खतरनाक स्थिति में है। जीवन भर के जमा पूंजी देने के बाद भी उनको घर नही दिया जा रहा है। लगभग 2 लाख सेे ज्यादा खरीदार अभी तक अपने घर की आस लगाये बैठा है। जिनकों घर मिल भी गया है उनका रजिस्ट्री नहीं हो पा रहा है जिससे घर खरीदारों के पास मलिकाना हक नहीं है। आये दिन मैंटेंनेंस की शिकायत भी आती ही रहती है।

घर खरीदारों नें महागुन बिल्डर के नियत को लेकर प्रदर्शन किया। सालों बीत जाने के बाद भी उनको कब्जा नही दिया गया है जिससे गुस्साए खरीदारों नें बिल्डर महागुन ग्रुप के खिलाफ नारेबाजी की तथा प्रदेश सरकार से न्याय की मांग की। उनका कहना था कि बिल्डर नें जंगलराज कायम कर रखा है। हर बार और कदम-कदम पर घर खरीदारों के आंखों में धूल झोकने का काम किया है। यहाँ तक कि बायर बिल्डर एग्रीमेंट के नियम का भी धज्जियाँ उड़ा दी है। यह तो कोविड महामारी से भी ज्यादा खतरनाक है वहाँ तो हम कुछ दिनों से परेशान है और यहाँ तो परेशान होते हुए वर्षो हो चला। प्रदेश सरकार भी इसका संज्ञान नही ले रही है। बिल्डरों नें घर खरीदार के सारा पैसा खा गया और झुनझुना पकड़ा दिया है।

%d bloggers like this: