दसवीं फेल खुद को आईपीएस बता महिलाओं से करता था दोस्ती

Spread the love

संवाददाता अरविन्द मिश्रा

नई दिल्ली ,दसवीं फेल खुद को आईपीएस बताकर नौकरी दिलाने का झांसा देकर महिलाओं से दोस्ती करता था। बाद में आरोपी महिलाओं को अश्लील फोटो व वीडियो भेजता था। कोटला मुबारकपुर थाना पुलिस ने एक महिला की शिकायत पर आरोपी गौरी शंकर को गुरुग्राम से गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस ने आरोपी के पास से दो मोबाइल, चार सिम कार्ड और फर्जी आईडी भी पुलिस ने बरामद की है। पुलिस उपायुक्त अतुल कुमार ठाकुर ने बताया कि 25 नवंबर को कोटला मुबारकपुर थाने में एक महिला ने शिकायत दी थी। महिला ने बताया कि खुद को आईपीएस बताने वाला एक युवक एक माह से उसके मोबाइल पर अश्लील मैसेज, फोटो और वीडियो भेज रहा है। पुलिस ने मामले की गंभीरता देखते हुए तुरंत केस दर्ज किया और एसएचओ अजय सिंह नेगी, एसआई स्नेहलता, नीतू बिष्ट की टीम ने जांच शुरू की। सर्विलांस से पता चला कि आरोपी का नंबर गुजरात का है। जांच में सामने आया कि आरोपी ने फर्जी पहचान पत्र पर सिम लिया था।


यूपी और हरियाणा की महिलाओं को परेशान करता था :आरोपी की कॉल डिटेल से पता चला कि वह ज्यादातर उत्तर प्रदेश और हरियाणा की महिलाओं को फोन कर परेशान करता था। वह खुद को यूपी का एसीपी बताता था और उनसे दोस्ती करने की कोशिश करता। फिर नौकरी दिलाने के बहाने वह उन्हें प्रभावित करने की कोशिश करता था। उसके मोबाइल की लोकेशन गुरुग्राम के सेक्टर 22 में मिली, जहां पर उसने मोबाइल बंद कर दिया था।

आखिरकर पुलिस आरोपी को पकड़ने के लिए तकनीक माध्यम के साथ-साथ गुरुग्राम में चार दिनों तक लगातार डोर टू डोर आरोपी की तलाश की गई। आखिरकार उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

पूछताछ में पता चला कि पिछले चार महीने से वह एक ऑटो मोबाइल कंपनी में सुरक्षा गार्ड की नौकरी कर रहा है। पहले उसकी कुशीनगर में मोबाइल की दुकान थी।वहीं, पर उसने महिलाओं का डाटा जमा कराया था।

%d bloggers like this: