सुप्रीम कोर्ट ने कुछ प्रतिबंधों के साथ पुरी में रथ यात्रा आयोजित करने की अनुमति दी

Spread the love

सुप्रीम कोर्ट ने कहा, पुरी रथ यात्रा स्वास्थ्य से समझौता किए बिना मंदिर समिति, राज्य और केंद्र सरकार के समन्वय के साथ आयोजित की जाएगी.


सुप्रीम कोर्ट ने कुछ प्रतिबंधों के साथ ओडिशा के पुरी में रथ यात्रा आयोजित करने की अनुमति दे दी है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा, पुरी रथ यात्रा स्वास्थ्य से समझौता किए बिना मंदिर समिति, राज्य और केंद्र सरकार के समन्वय के साथ आयोजित की जाएगी.


इससे पहले केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट के सामने वार्षिक रथ यात्रा मामले का जिक्र किया और कहा, कोरोना वायरस महामारी को ध्यान में रखते हुए इसे सार्वजनिक भागीदारी के बिना आयोजित किया जा सकता है. जिस पर ध्यान देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने इसकी इजाजत दे दी है.


बता दें कि सुप्रीम कोर्ट की सिंगल-जज बेंच 18 जून के अपने पहले के आदेश को संशोधित करने की मांग करने वाली चार याचिकाओं पर आज सुनवाई करेगी, जो Corona Pandemic के कारण पुरी और ओडिशा के अन्य सभी स्थानों में वार्षिक ‘रथ यात्रा’ पर रोक लगा दी थी.


हालांकि सोमवार को भारत के मुख्य न्यायधीश, एस.ए. बोबडे की अध्यक्षता वाली सुप्रीम कोर्ट की तीन जजों की पीठ ने पुरी जगन्नाथ मंदिर रथयात्रा मामले की सुनवाई करते हुए इसकी इजाजत दे दी. भारत के मुख्य न्यायाधीश (CJI) एस.ए. बोबडे ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट सिर्फ पुरी में यात्रा आयोजित करने पर विचार कर रहा है, ओडिशा में और कहीं नहीं.

%d bloggers like this: