39 हजार के पार बंद हुआ सेंसेक्स, इन शेयरों में दिखी सबसे ज्यादा तेजी

Spread the love


वैश्विक बाजारों के सकारात्मक रुख के बीच बैंक और वित्तीय कंपनियों के शेयरों में लिवाली से बीएसई सेंसेक्स (BSE Sensex) में मंगलवार को 288 अंक की तेजी दर्ज की गई.

नई दिल्लीः वैश्विक बाजारों के सकारात्मक रुख के बीच बैंक और वित्तीय कंपनियों के शेयरों में लिवाली से बीएसई सेंसेक्स (BSE Sensex) में मंगलवार को 288 अंक की तेजी दर्ज की गई. तीस शेयरों वाला सेंसेक्स शुरुआती उतार-चढ़ाव से बाहर निकलते हुए अंत में 287.72 अंक यानी 0.74 फीसदी मजबूत होकर 39,044.35 पर बंद हुआ. वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE Nifty) का निफ्टी 81.75 अंक यानी 0.71 फीसदी बढ़कर 11,521.80 अंक पर बंद हुआ.

इन शेयरों में दिखी तेजी
सेंसेक्स के शेयरों में सर्वाधिक लाभ में इंडसइंड बैंक रहा. इसमें 4.03 फीसदी की मजबूती आई है. इसके अलावा भारती एयरटेल, एक्सिस बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, बजाज फाइनेंस, सन फार्मा, एचडीएफसी और कोटक बैंक में अच्छी तेजी रही.

इन शेयरों में दिखी गिरावट
दूसरी तरफ जिन शेयरों में गिरावट दर्ज की गई उनमें टाइटन, मारुति, आईटीसी, एशियन पेंट्स, एचसीएल टेक और बजाज ऑटो शामिल हैं. इनमें 1.20 फीसदी तक की गिरावट आई. मझोली और छोटी कंपनियों के शेयरों में तेजी रही. ‘मल्टी कैप’ म्यूचुअल फंड के लिये संपत्ति वर्गीकरण नियमों में बदलाव के कारण निवेशकों ने मझोली और छोटी कंपनियों के शेयरों में निवेश बढ़ाया.

शेयर बाजार में दिखा चीनी इफेक्ट
चीन में औद्योगिक उत्पादन के बेहतर आंकड़े से वैश्विक शेयर बाजारों में तेजी रही. इससे चीनी मुद्रा यूआन 16 महीने के उच्च स्तर पर पहुंच गई. एलकेपी सिक्योरिटीज के शोध प्रमुख एस रंगनाथन ने कहा कि विभिन्न क्षेत्रों में कार्यरत मझोली कंपनियों के शेयरों में लाभ से बाजार को गति मिली. उन्होंने कहा, ‘स्मॉल कैप सूचकांक में 1.5 फीसदी की तेजी आई जबकि सोमवार को इसमें 5 फीसदी की मजबूती दर्ज की गई थी. इससे एक साफ संदेश मिला कि निवेशकों की नजर अब बाजार में व्यापक तेजी पर है.’

एडीबी ने लगाया ये अनुमान
खंडवार सूचकांकों में बीएसई दूरसंचार, स्वास्थ्य, बैंक, मूल धातु, वित्त, बिजली में 1.94 फीसदी तक की तेजी आई है. वृहत आर्थिक मोर्चे पर एशियाई विकास बैंक (एडीबी) ने कहा कि चालू वित्त वर्ष 2020-21 में भारतीय अर्थव्यवस्था में नौ फीसदी की गिरावट का अनुमान है. एडीबी का कहना है कि कोविड-19 महामारी लंबे समय तक कायम रहने या संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी से भारत का वृद्धि परिदृश्य और प्रभावित हो सकता है. बाजार बंद होने के बाद सोमवार को जारी आंकड़े के अनुसार खुदरा मुद्रास्फीति अगस्त में 6.69 फीसदी रही जो रिजर्व बैंक के संतोषजनक स्तर से ऊपर है.

इससे अगली मौद्रिक नीति समीक्षा में नीतिगत दर में कटौती की संभावना कम हुई है. कारोबारियों के अनुसार वैश्विक बाजारों में मजबूत रुख के साथ विदेशी पूंजी प्रवाह जारी रहने से घरेलू बाजारों में तेजी आयी है. शेयर बाजार के पास उपलब्ध आंकड़े के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशकों ने सोमवार को शुद्ध रूप से 298.22 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे.

वैश्विक बाजारों में ये रहा हाल
वैश्विक स्तर पर एशिया के अन्य बाजारों में चीन में शंघाई, हांगकांग; दक्षिण कोरिया में सियोल लाभ में रहे जबकि जापान में तोक्यो बाजार में गिरावट दर्ज की गई. यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरूआती कारोबार में तेजी रही. इस बीच, वैश्विक तेल मानक ब्रेंट क्रूड का भाव 1.49 फीसदी मजबूत होकर 40.20 डॉलर प्रति बैरल पर रहा. इधर, विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 16 पैसे टूटकर 73.64 पर बंद हुआ.

Blink XT2 Outdoor/Indoor Smart Security Camera with cloud storage included, 2-way audio, 2-year battery life – 5 camera kit
%d bloggers like this: