बिहार में स्कूल-कॉलेज बंद नहीं होंगे, CM नीतीश ने कहा, कोरोना संक्रमण

Spread the love

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि कोरोना संक्रमण को लेकर हमलोग सचेत हैं। बिहार में वैसी स्थिति अभी नहीं है। राज्य में कोरोना के 20 से लेकर 48 तक पॉजिटिव मरीज रोज मिल रहे हैं। प्रतिदिन रात आठ बजे तक कोरोना से संबंधित रिपोर्ट हमारे पास आती है और नौ बजे हम संबंधित अधिकारियों के साथ इसकी समीक्षा करते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में फिलहाल स्कूल कॉलेज को बंद करने की कोई योजना नहीं है। बुधवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार विधानमंडल परिसर में पत्रकारों से बात कर रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना को लेकर प्रधानमंत्री ने सभी मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की है, जिसमें प्रस्तुतीकरण के माध्यम से कोरोना की वर्तमान स्थिति की जानकारी दी गई है। जिन राज्यों में पहले की तुलना में कोरोना तेजी से बढ़ रहा है, वहां के मुख्यमंत्रियों ने बैठक में अपनी बातें रखीं। बाहर से जो लोग आते हैं, उन पर नजर रखना जरूरी है। बाहर से आने वाले कई लोग कोरोना पॉजिटिव निकले हैं। जल्द ही हम इस पर बैठक करेंगे। कोरोना जांच की संख्या को फिर से बढ़ाना है। तय किया गया है कि प्रतिदिन 70 हजार जांच करनी है। अधिक से अधिक जांच आरटीपीसीआर से हो, इसको लेकर सारे इंतजाम किये जा रहे हैं।

सदन में सदस्यों द्वारा मर्यादा तोड़ने को लेकर पूछे गये सवाल पर सीएम ने कहा कि हम प्रधानमंत्री के साथ बैठक में व्यस्त रहे। यहां आने के बाद इसके संबंध में हमें जानकारी मिली है। कल हम सब इस पर विचार-विमर्श करेंगे। सबको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि सदन की कार्यवाही में किसी भी तरह का व्यवधान न हो। अध्यक्ष को सभी सदन चलाने में सहयोग करें, चाहे पक्ष हो या विपक्ष। जिनसे भूल हुई है, उन्होंने क्षमा भी मांग ली है।

शराबबंदी को लेकर मंत्री पर लगाये गये आरोपों के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि रामसूरत राय ने मंगलवार को ही सारी बातें रख दी है। उनके परिवार का बंटवारा पहले ही हो चुका है। उन्होंने कभी भी नहीं कहा है कि जो भी इसके लिए जिम्मेवार हैं, उन पर कार्रवाई न हो। अनावश्यक रूप से उन पर जो भी आरोप लगाये गये हैं, उसका जवाब उन्होंने दे दिया है। कहा, हम निरंतर एक-एक चीज की समीक्षा करते हैं। सदन में गृह विभाग द्वारा जानकारी दी गई है कि अपराध के मामले पहले से काफी घटे हैं। मैं आपको आश्वस्त करता हूं कि शराब के धंधे में लिप्त लोगों एवं शराब सेवन करने वाले को बख्शा नहीं जायेगा। शराबबंदी पूरी मुस्तैदी से लागू रहेगी। पहले की तुलना में अब ज्यादा कार्रवाई हो रही है।

livehindusan.com

%d bloggers like this: