google.com, pub-3648227561776337, DIRECT, f08c47fec0942fa0

अयोध्या मामले में 🏢सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर आरएसएस 👉प्रमुख मोहन भागवत ने दिया बड़ा🗣 बयान

Spread the love

अयोध्‍या जमीन विवाद मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत ने कहा कि अब सभी को मिल-जुलकर राममंदिर बनाना है। सभी को सुप्रीम कोर्ट का फैसला सहजता से स्‍वीकार करते हुए देश में शांति व सौहार्द्र बनाए रखना है।

मोहन भागवत ने कहा कि संघ सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्‍वागत करता है। कोर्ट ने सभी पहलुओं और सभी पक्षों के तर्कों का बारीकी से मूल्‍यांकन किया। उन्‍होंने फैसले देने वाले सुप्रीम कोर्ट के मुख्‍य न्‍यायाधीश रंजन गोगोई के साथ ही सभी जजों और पक्ष रखने वाले वकीलों का धन्‍यवाद किया।

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष और गृह मंत्री अमित शाह ने भी एक के बाद एक कई ट्वीट करते हुए कहा कि श्रीराम जन्मभूमि पर सर्वसम्मति से आए सर्वोच्च न्यायालय के फैसले का मैं स्वागत करता हूं। मैं सभी समुदायों और धर्म के लोगों से अपील करता हूं कि हम इस निर्णय को सहजता से स्वीकारते हुए शांति और सौहार्द से परिपूर्ण ‘एक भारत-श्रेष्ठ भारत’ के अपने संकल्प के प्रति कटिबद्ध रहें।

कांग्रेस महासचिव ने प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि अयोध्या मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट ने फैसला दिया है। सभी पक्षों, समुदायों और नागरिकों को इस फ़ैसले का सम्मान करते हुए हमारी सदियों से चली आ रही मेलजोल की संस्कृति को बनाए रखना चाहिए। हम सबको एक होकर आपसी सौहार्द और भाईचारे को मजबूत करना होगा।’ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अयोध्या केस में सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया है। बता दें सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कहा है कि अयोध्या में विवादित जमीन पर राम मंदिर बनेगा।

राम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष और मणि रामदास जी छावनी के महंत नृत्य गोपाल दास ने अयोध्या भूमि विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत करते हुए खुशी जताई है। उन्होंने कहा कि अयोध्या में अब एक भव्य राम मंदिर बनाएंगे। राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि फैसला सर्वमान्य है लेकिन राजनीतिक दलों को मंदिर-मस्जिद बनने से ज्यादा अच्छे स्कूल कॉलेज और हॉस्पिटल बनाने चाहिए।

बीजेपी नेत्री उमा भारती का कहना है कि वह सबसे पहले अपनी पार्टी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवानी के घर जाकर उनको प्रणाम करना चाहेंगी। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि ने अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया है। उन्होंने कहा है सुप्रीम कोर्ट ने विवादित जमीन रामलला को सौंप दी है। इस फैसले का साधु-संत स्वागत करते हैं। उन्होंने मुसलमानों को पांच एकड जमीन दिए जाने के फैसले का स्वागत किया है।

महात्मा गांधी के प्रपौत्र तुषार गांधी ने कहा कि अगर महात्मा गांधी की मौत के मामले में सुप्रीम कोर्ट में आज फिर से सुनवाई होती है तो फैसला यही होगा कि नाथूराम गोड्से ‘एक हत्यारे लेकिन देशभक्त थे’। अयोध्या में जमीन के मालिकाना हक के मुकदमे पर सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में अयोध्या में विवादित स्थल पर राम मंदिर निर्माण को लेकर आगे की राहें खोल दी हैं।

%d bloggers like this: