राहुल गांधी बोले- कोरोना पर काबू पाने के लिए संपूर्ण लॉकडाउन ही करना पड़ेगा

Spread the love

कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) संपूर्ण लॉकडाउन की मांग की. उन्होंने कहा कि संक्रमण की रफ्तार को रोकने के लिए लॉकडाउन (Lockdown) ही एकमात्र तरीका है.

देश में कोरोना का कहर जारी है. रोजाना 3.5 लाख से ज्यादा नए मामले सामने आ रहे हैं. कोरोना की दूसरी लहर पर काबू पाने के लिए हर ओर से संपूर्ण लॉकडाउन की आवाज उठ रही है. इस बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) संपूर्ण लॉकडाउन की मांग की. उन्होंने कहा कि संक्रमण की रफ्तार को रोकने के लिए लॉकडाउन (Lockdown) ही एकमात्र तरीका है.

राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ‘सरकार समझ नहीं रही है. कोरोना के प्रसार को रोकने का एकमात्र उपाय अब संपूर्ण लॉकडाउन (Complete Lockdown) ही है. इस दौरान, समाज के कमजोर तबकों के लिए न्याय (NYAY) की सुरक्षा दी जाए. सरकार की निष्क्रियता कई मासूम लोगों की जान जा रही है.

उधर, सुप्रीम कोर्ट ने भी केंद्र और राज्य सरकारों को सामूहिक समारोहों और सुपर स्प्रेडर घटनाओं पर प्रतिबंध लगाने के साथ-साथ लॉकडाउन लागू करने पर विचार करने का निर्देश दिया. सुप्रीम कोर्ट ने कहा, ‘हम गंभीर रूप से केंद्र और राज्य सरकारों से सामूहिक समारोहों और सुपर स्प्रेडर घटनाओं पर प्रतिबंध लगाने पर विचार करने का आग्रह करेंगे. वे जन कल्याण के हित में दूसरी लहर में वायरस को रोकने के लिए लॉकडाउन लगाने पर भी विचार कर सकते हैं.’ शीर्ष अदालत ने आगे कहा, ‘यह कहते हुए कि, हम एक लॉकडाउन के सामाजिक-आर्थिक प्रभाव से परिचित हैं. इस प्रकार, अगर लॉकडाउन लागू किया जाता है, तो इन समुदायों की जरूरतों को पूरा करने के लिए पहले से व्यवस्था की जानी चाहिए.’

उधर, AIIMS प्रमुख डॉक्टर रणदीप गुलेरिया ने भी कोरोना की दूसरी लहर को हराने के लिए सख्त लॉकडाउन (Aggressive Lockdown) की जरूरत बताया. NDTV वेबसाइट की खबर के अनुसार, डॉक्टर गुलेरिया ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर को रोकने के लिए उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, हरियाणा, समेत देश के कई राज्यों में नाइट कर्फ्यू (Night Curfew) और वीकेंड लॉकडाउन (Weekend Lockdown) लगाया गया है, लेकिन यह ज्यादा असरदार साबित नहीं हुआ है. उन्होंने कहा कि हमें इस संख्या को नीचे लाने के लिए आक्रामक तरीके से काम करना होगा. यह दूसरा मौका है जब डॉ. गुलेरिया ने ज्यादा पॉजिटिव वाले क्षेत्रों में सख्त लॉकडाउन का आह्वान किया है.

वहीं, कॉन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (CAIT) ने भी कोरोना महामारी को नियंत्रित करने के लिए देशव्यापी लॉकडाउन का आह्वान किया है. शीर्ष व्यापारी संघ ने दावा किया है कि उनके ऑनलाइन सर्वेक्षण में भाग लेने वाले 67 प्रतिशत लोगों ने ट्रांसमिशन की सीरीज को तोड़ने के लिए एक राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन (Nationwide Lockdown) का समर्थन किया. CAIT के राष्ट्रीय अध्यक्ष बीसी भरतिया और महासचिव प्रवीण खंडेलवाल ने पीएम मोदी से तत्काल प्रभाव से राष्ट्रीय लॉकडाउन लागू करने का अनुरोध किया है.

हालांकि, अगर संपूर्ण लॉकडाउन संभव नहीं है, तो CAIT ने उन राज्यों में पूर्ण लॉकडाउन की सिफारिश की है जहां कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. CAIT ने आश्वासन दिया है कि अगर सरकार ने राष्ट्रीय लॉकडाउन की घोषणा की, तो व्यापारिक समुदाय पिछले साल की तरह आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता और आपूर्ति सुनिश्चित करेगा.

%d bloggers like this: