google.com, pub-3648227561776337, DIRECT, f08c47fec0942fa0

राफेल ✈शस्त्र-पूजा विवाद के बीच वायरल हुआ 👉पंडित नेहरू की शिप पूजा का अनदेखा📹 वीडियो

Spread the love

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने जिस तरह से फ्रांस में राफेल डील की पहली खेप को आधिकारिक रूप से रिसीव करने के बाद उसकी ‘शस्त्र पूजा’ की, उस पर आपत्ति जताते हुए कांग्रेस के दिग्गज नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने राफेल की ‘शस्त्र पूजा’ को तमाशा करार दे दिया, उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी ने जब बोफोर्स तोप खरीदी थी तो यह सब दिखावा नहीं किया था। कोई भी उसे खरीदने और लाने के लिए नहीं गया था, हमने कोई दिखावा नहीं किया था।

यही नहीं कांग्रेस ने राफेल पर ‘ऊं’ लिखे जाने, नारियल से पूजा करने और शस्त्र-पूजा किए जाने को नाटक करार देते हुए भाजपा को ढोंगी कहा है, जिस पर भाजपा ने भी करारा जवाब दिया है, बीजेपी ने कांग्रेस को ‘क्वात्रोची की पूजा करने’ वाला बताया है।

तो वहीं इस वाक युद्द के बीच सोशल मीडिया पर एक पुराना वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू एक जहाज के जलावतरण के मौके पर पूजा करते नजर आ रहे हैं, वीडियो के वाइस ओवर में यह बताया जा रहा है कि पंडित नेहरू नारियल तोड़कर जहाज को पानी में उतारने की रस्म पूरी कर रहे हैं।

इस वीडियो को सैयद अतहर देहलवी ने 14 मार्च 2018 को ट्वीट किया था, जिसमें उन्होंने यह कहा है कि यह वीडियो 14 मार्च 1948 का है, जब आजाद भारत के पहले जहाज ‘जल ऊषा’ को वैदिक मंत्रोच्चार और विधिवत पूजा-अर्चना के साथ तत्कालीन प्रधानमंत्री पंडित नेहरू ने हिंद महासागर में उतारा था।

%d bloggers like this: