google.com, pub-3648227561776337, DIRECT, f08c47fec0942fa0

प्रदूषण से बचने लिए शुद्धि क्रिया अभ्यास

Spread the love

रमण झा वतन की आवाज नोए़डा

दिल्ली एन सी आर मे लगातार बढ़ रहे प्रदूषण का असर कम करने के लिए नोएडा सेक्टर 36 मे शद्धि क्रिया का आयोजन किया गया। लगभग 30 से अधिक साधको ने जलनेति , सुत्रनेति तथा कुञ्जल क्रिया का अभ्यास किया। लोग हजार हजार रुपये की मास्क लगाकर घुम रहे फिर भी हो रही है सांसों की दिक्कत।

भारतीय योग संस्थान के द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम मे योग अभ्यास के साथ साथ आज शुद्धि क्रिया का विशेष आयोजन किया गया । अभ्यास सुबह 6 बजे से शुरु किया गया जो 7 बजे तक चला। पुराने योग साधक के साथ साथ नये साधक भी इस शुद्धि क्रिया मे शामिल होर स्वास्थ्य लाभ लिया। अभ्यास नोएडा सेक्टर 36 के बारात घर मे करवाया गया।

प्रदुषण से बचाव के लिए शुध्दि क्रिया बेहद जरूरी

दिल्ली तथा इसके आस पास के क्षेत्र मे लगातार बढ रहे प्रदूषण से सामान्य जन पर इसका बहुत ही प्रभाव पड़ा है। लोगों मे लगातार सांस लेने की समस्या उत्पन्न हो रही है। जिला अस्पतालों मे लगातारों सांस की मरीजो की संख्या बढती ही जा रही है। इसी के मध्यनजर संस्थान के द्वारा योग एवं शुद्धि क्रियाओं का विशेंष आयोजन किया गया जिसमे लगभग 30 से अधिक योग साधकों ने भाग लिया।

प्रदुषण से बचाव के लिए शुध्दि क्रिया बेहद जरूरी

आज के इस शुद्धि क्रिया मे जलनेति, सुत्रनेति एवं कुञ्जल क्रिया का अभ्यास करवाया गया। इस क्रिया के द्वारा पेट , छाती तथा गले एवं नाक संबंधि विकारों को दूर करने मे मदद मिलता है। बढ़ रहे प्रदूषण के कारण इन्ही अंगो पर ज्यादा प्रभाव पर रहे है। जिसके कारण लोगों मे सर्दी, खाँसी , जुकाम , अस्तमा एवं कैंसर जैसे रोग हो रहे है।

शुद्धि क्रिया अभ्यास को संस्थान के ही योग साधक श्री अभिषेक कुमार जी एवं श्री एस एन रावत जी के द्वारा करवाये गये। जिसे योग साधकों ने प्रसन्नता पूर्वक किया तथा अपना अनुभव मिडिया के भी साझा किये।संस्थान के प्रति भी इस आयोजन के लिए बहुत आभार प्रकट की।

%d bloggers like this: