पाकिस्तान की नई साजिश ‘प्लान 5 अगस्त’, कश्मीर पर भारत विरोधी एजेंडे का खाका तैयार

Spread the love

पाकिस्तान के सूचना प्रसारण मंत्रालय को सभी प्रमुख उर्दू और अंग्रेजी अखबारों में स्पेशल पेज के जरिए कवरेज करवाने का काम सौंपा गया है. इसके अलावा ये भी तय किया जाएगा कि 5 अगस्त को सभी पाकिस्तानी न्यूज चैनलों का लोगो ब्लैक कर दिया जाए.


जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने की चोट इमरान खान (Imran Khan) और पूरे पाकिस्तान (Pakistan) के दिमाग पर कितनी गहरी लगी है. इसका अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि इमरान खान कश्मीर-कश्मीर चिल्ला तो पाते हैं लेकिन चाह कर भी कुछ कर नहीं सकते हैं. अब जबकि 5 अगस्त को कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने को 1 साल पूरा होने जा रहा है तो इमरान खान और पाकिस्तान की फौज ने भारत के खिलाफ दुष्प्रचार करने के लिए पूरा एजेंडा तैयार किया है.

पाकिस्तान के सूचना प्रसारण मंत्रालय को सभी प्रमुख उर्दू और अंग्रेजी अखबारों में स्पेशल पेज के जरिए कवरेज करवाने का काम सौंपा गया है. इसके अलावा ये भी तय किया जाएगा कि 5 अगस्त को सभी पाकिस्तानी न्यूज चैनलों का ‘लोगो’ ब्लैक कर दिया जाए. पाकिस्तान में सभी चैनलों को कश्मीर पर विशेष कार्यक्रमों को प्रसारित करने का निर्देश दिया गया है. कश्मीरियों के लिए एक विशेष गीत भी तैयार किया गया है.


कश्मीरी नेताओं, कार्यकर्ताओं और भारत के अंतरराष्ट्रीय संगठनों को इस साल 5 अगस्त को पाकिस्तान रॉयल ट्रीटमेंट भी देगा और इमरान खान 5 अगस्त को मुजफ्फराबाद जाएंगे. इसके अलावा इमरान खान पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर की विधानसभा को संबोधित करेंगे, जिसका टीवी पर लाइव प्रसारण होगा. इसके साथ ही जम्मू-कश्मीर पर संयुक्त राष्ट्र के उस प्रस्ताव के संबंध में पर्चे बांटे जाएंगे जिसमें जनमत संग्रह का जिक्र है.


गौरतलब है कि इमरान खान कश्मीर का केस संयुक्त राष्ट्र और दुनिया के नेताओं के पास ले जाने की बात कर रहे थे लेकिन हुआ क्या, कुछ नहीं. पाकिस्तान और इमरान की बात किसी ने नहीं सुनी क्योंकि पूरी दुनिया अब समझ चुकी है कि पाकिस्तान ही विश्व में आतंक का अड्डा है. फिर भी पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई भारत के खिलाफ दुष्प्रचार करने के लिए ऐसे बयानों को वायरल करेगी, जो अनुच्छेद 370 हटाने के खिलाफ हिदुस्तान के नेताओं की तरफ से दिए गए थे.
पूरी दुनिया जानती है कि इमरान खान की कुर्सी पाकिस्तान की फौज के हाथ में है. पूरा पाकिस्तान, उसकी फौज, ISI और उसके पाले हुए आतंकी सब देखते रह गए और हिंदुस्तान ने एक झटके में कश्मीर का किस्सा हमेशा के लिए खत्म कर दिया. 5 अगस्त 2019 को अलगाववाद के अनुच्छेद 370 को हमेशा के लिए जड़ से मिटा दिया गया था.

प्रधानमंत्री मोदी ने भी मन की बात कार्यक्रम में पाकिस्तान के चरित्र को देश के सामने रखा था. उन्होंने कहा था कि दुष्ट का स्वभाव ही होता है, हर किसी से बिना वजह दुश्मनी करना. भारत की मित्रता के जवाब में पाकिस्तान ने पीठ में छुरा घोंपने का काम किया, उसके बाद पूरी दुनिया ने भारत की वीर सेना का पराक्रम देखा. अब पाकिस्तान चाहे जितनी दुष्टता दिखा ले, चाहे जितना दुष्प्रचार कर ले लेकिन एक बात कान खोल कर सुन ले कि कश्मीर को हमेशा के लिए भूलने के अलावा उसके पास दूसरा कोई रास्ता नहीं है.

%d bloggers like this: