हमारे पुलिस बधाई और सराहना के योग्य:- ठाकुर दलीप सिंघ जी

Spread the love

कोरोना (महामारी) दौरान ड्यूटी निभाह रहे पुलिस कर्मचारी सराहना के पात्र:- ठाकुर दलीप सिंघ जीअपनी जान पर खेलकर भी लोगों की जान बचा रहे हैं। भारत बंद के दौरान कर्मचारियों के कार्यों की सराहना व शोभा करें


आज सारा विश्व कोरोना नाम की घातक बीमारी (महामारी) से जूझ रहा है। इस महामारी से कई लोग अपनी जान भी गंवा चुके हैं। सरकार, प्रशासन और डॉक्टर महामारी से निपटने के लिए हर संभव कोशिश कर रहे हैं। पर इनके साथ ही इस बिमारी को नियंत्रित करने में हमारे देश के पुलिसकर्मी भी बहुत योगदान दे रहे हैं।

यह कहना है नामधारी पंथ के वर्तमान मुखी ठाकुर दलीप सिंघ जी का। ठाकुर जी ने कहा हमारे पुलिस कर्मचारी दिन हो या रात, सर्दी हो या गर्मी या कोई त्यौहार आप पुलिस को अपना फर्ज़ निभाते हुए अक्सर देखते हो और अब जबकि हमारा पूरा देश भी इस बिमारी से त्रस्त है, फिर भी वह अपनी जान पर खेलकर दूसरों को बचा रहे हैं। इसलिए हमारे पुलिस कर्मचारी बधाई और सराहना के योग्य हैं। इस महामारी के समय पुलिस जरूरत मंद लोगों को अपने हाथों से रोजाना काम आने वाली वस्तुएँ उपलब्ध करवा रहे हैं।

ठाकुर जी ने सारे भारत-वासियों को कहा तुम भी इन पुलिस कर्मचारियों की सराहना करें, शोभा करें और उनको जल-पान करवाएं और बिना किसी कारण कभी भी पुलिस वालों की निंदा ना करें। आप उनके अच्छे कार्यों की तारीफ करें तथा उनको यह भी बता दिया करो कि आप अपना चरित्र और बढ़िया बनाने के लिए निर्दोष और गरीबों को परेशान मत किया करो। ठाकुर दलीप सिंघ जी ने कहा कि गुरवाणी अनुसार हर आदमी को अपनी बुराइयों को दूर करना चाहिए। किसी की अच्छाइयां देखो, किसी की बुराइयां मत देखो। किसी की अच्छाइयां देखकर उनकी शोभा करो।

कबीर सभ ते हम बुरे हम तजि भलो सभु कोइ ॥

%d bloggers like this: