अभी है बचाव की घडी, फैसन के लिये उम्र है पडी!

Spread the love

अभी है बचाव की घडी,
फैसन के लिये उम्र है पडी!

बिना मतलब न करे आवाजाही
जिंदगी छीन लेगी लापरवाही!

दूर से ही पूछे हालचाल,
मास्क का करे इस्तेमाल!

मौके को न समझे बहाना,
एक दूसरे के साथ न खाये खाना!

कोई भी यात्रा न करो इस वर्ष
आँख, नाक , कान को बार-बार न करे स्पर्श!

पानी की नही है कोई मजबूरी,
समय समय पर हाथ धोना है जरूरी!

जरूरी है सभी के लिये कामकाज,
सर्दी, खाँसी पर तुरंत कराये इलाज!

अभी करो बचाव हाथ मिलाना गले लगाना कर लेना बाद मे,
अापकी और आपके परिवार की जिंदगी है आपके हाथ मे!!

धन्यावाद
नीशू उपाध्याय🙏🙏

%d bloggers like this: