नोएडा: अवैध आटो पर यातायात पुलिस की बड़ी कार्यवाही, 223 आटों का चालान, 31 सीज।

Spread the love

नोएडा यातायात पुलिस का बड़ी कार्यवाही। अवैध तरीके के चल रहे आटो पर बड़ी कार्यवाही। 223 आटो के काटे गए चालान। जबकि 31 आटो का सीज किया गया।यातायात नियमों को लेकर भी चलाया गया जागरुकता अभियान। लगातार मिल रही शिकायत पर किया गया बड़ा एक्शन।

नोएडा पुलिस के द्वारा सेक्टर 52 मेंट्रों के पास अवैध रूप से खड़े आटो/टैम्पो के विरूद्ध सघन चेंकिंग अभियान चलाया गया। जिसके तहत 223 आटो/टेम्पो का चालान किया गया तथा वैध प्रपत्र ना रखने पर 31 आटो को सीज किया गया।

अभियान में यातायात निरीक्षक श्री रविन्द्र कुमार , निरीक्षक श्री आशुतोष कुमार व यातायात उपनिरीक्षक श्री अजय रावत व अन्य यातायात पुलिसकर्मी द्वारा कारवाही की गयी। यातायात पुलिस के द्वारा यात्रियों के साथ मृदुभाषा में व्यवहार करने तथा और यातायात नियमों के प्रति जागरुक किया। इस अभियान के दौरान पुलिस उपायुक्त, यातायात द्वारा पुलिसकर्मियों को आवश्यक कार्यवाही के संबंध में निर्देश दिए।

आमतौर पर सवारी आटो चालक ओवरलोडिंग करते हुए देखे जाते है। यह तो नही पता कि कितने सवारी के अनुमति शासन और प्रशासन के द्वारा दिया गया है लेकिन यह जरूर है कि आटो में 11 सवारी तक बिठाया जाता है और जरूरी प़ड़ा तो पीछे लटका भी लिया जाता है। इसके अलावा बहुत से ऐसे आटो वाले है जिसका सवारियों के साथ व्यवहार करने का तरीका ठिक नही है। शहर में चलने वाले 25-30 प्रतिशत आटो वाले के पास वैध कागज नही है और कुछ के पास तो ड्राईविंग लाईसेंस तक नही है। गाड़ी के जड़-जड़ हालत तो किसी से छुपी नही जिसका अगर फिटनेस सर्टिफिकेट लिया जाय तो बिल्कुल फेल होगा।

इसके अलावा कौन सा आटो का कौन सा रूट है यह भी पता नही चलता है जिसके कारण कोई आटो वाले किसी भी रूट में जा सकता है। नोएडा शहर के वरिष्ठ नागरिक व अधिवक्ता ने शासन/प्रशासन से मांग किया है कि इनका रूट डिसाईड किया जाय और इसके लिए कलर कोडिंग भी हो। छोटा-छोटा रूट बनाये जाने चाहिए जिससे आटो वाले ज्यादा संख्या में एक जगह पर खड़े ना हो। क्योंकि नोएडा एक स्मार्ट सिटी है तो ट्रांसपोर्टेशन भी स्मार्ट ही होना चाहिए।

%d bloggers like this: