नोएडा फ्लावर शो मे वायु शुद्धिकरण पर है विशेष जोर।।

Spread the love

नोएडा सेक्टर 21ए में चल रहे 34वें फ्लावर शो मे फूल कम और पत्तियाँ ज्यादा। सै नो टु प्लास्टिक के बजाय प्लास्टिक्स ही प्लास्टिक्स देखने को मिल रहे है। लाखों के संख्या में पहुँचे फूल प्रेमी फूल के कमी को देख मायूस दिखे। लेकिन कवियों ने बिखेरे अपने कविता की कली , लोग हँसते-हँसते हुए लोट-पोट, कई प्रादेशिक तथा सांस्कृतिक आयोजन भी किये गए। वायु शुद्धिकरण पर है विशेष ध्यान।

नोएडा स्टेडियम मे तीन दिवसीय फ्लावर शो के दूसरे दिन बड़ी संख्या मे फूलों के मूरीद रखने वाले फूल प्रेमी पहुँचे। लेकिन इस बार उनकों थोड़ी सी निराशा मिली है। हर साल की तरह इस बार उतनी फूल देखने को नही मिल रहे है। हालाँकि इस बार 3500 से अधिक फूलों के प्रजाति इस फ्लावर शो में है लेकिन वो पौधे और पत्तियों के रुप मे होने से कम आकर्षण में है।

इस बार के फ्लावर शो मे जल संचय और हवा के शुद्धिकरण पर विशेष बल दिया गया है। बड़ी संख्या मे लोग इन पौधों को अपने घर कीचन और आफिस के लिए खरीद रहे है। जल संचय को लेकर कई प्रकार के पौधे भी है प्लावर शो मे मौजूद है जिसमें सप्ताह में एक से दो बार ही पानी की जरूरत पड़ते है।

इस फ्लावर शो मे गार्डेनिंग पर भी विशेष ध्यान दिया गया है, हारीजोन्टल तथा वर्टिकल गार्डन के लिए भी यहाँ पर सामान उपलब्ध है। जिससे की आपको गार्डेनिंग करने मे आसानी हो। कुछ नये किस्म के टुल्स भी मेले मे मौजूद है जो बिजली बचत के साथ-साथ बेहतर कार्यकुशल है। साथ ही आप यहाँ से फर्टिलाईजर भी खरीद सकते है। आपके गार्डनिंग के देखभाल के लिए प्रशिक्षित गार्डनर भी यहाँ मिल जायेंगे जो कि आपके गार्डन को सजाने सँवारने मे आपको मदद करेंगें।

प्लास्टिक्स मुक्त पर्यावरण जो इस बार के थीम है , इसके बावजूद फ्लावर शो मे प्लास्टिक्स की कोई कमी नही है। गार्डेनिंग के ज्यादातर सामान आपको प्लास्टिक्स और फाईवर मे देखने को मिल जायेंगे । बिसलरी और दिव्य जल भी प्लास्टिक्स के बोतल मे उपलब्ध है।

आप अगर बागवानी से अन्जान है लेकिन फूल और पौधों को खरीदकर अपने घर और आफिस मे लगाना चाहते है तो इस फ्लावार शो मे जरूर पहुँचे क्योंकि इस बार है आप के लिए कुछ खास। इस बार आपकों बागवानी के बारे मे पूर्ण जानकारी दिये जा रहा है।

अगर आप अपने घर में पौधे लगाना चाहते है तो उसके देखभाल ठीक से कर सकें। इसके लिए इस बार प्रशिक्षण दिये जा रहे है। वातावरण से लेकर जल संचय तक की प्रशिक्षण इस बार के फ्लावर शो मे आकर ले सकते है।

%d bloggers like this: