दो मंदिरों के बीच खुले शराब के ठेके,महिलाओं ने किया प्रदर्शन

Spread the love

एजेंसी : आयोध्या में राम मंदिर का निर्माण शुरू हुआ तो गाजियाबाद में दो मंदिरों के बीच शराब के ठेके का निर्माण कर दिया, जिसका जमकर विरोध हो रहा है, अधिकारी आंखों पर पट्टी बाँधकर मौन बैठे हैं, “क्या भारत की कानून व्यवस्था राम भरोसे है” क्या भारत मे राम राज्य शराब के भरोसे आने वाले है ? जिस देश मे शराब को कलंक माने जाते है उसी देश मे उसे आवश्यक रूप में बेचे जा रहे है।


गाज़ियाबाद : आज 09/08/2020 दिन रविवार को भी दो मंदिरों के बीच खुले शराब के ठेके के विरोध में आज पांचवें दिन भी महिलाओं ने विरोध प्रदर्शन जारी रखा व पुलिस व प्रशासन के खिलाफ रोष जताया। बता दें कि पिछले पाँच दिन से भूड़ भारत नगर थाना विजय नगर रेल्वे स्टेशन के पास गाज़ियाबाद आवासीय कालोनी में सनातन धर्म मंदिर व शनि देव मंदिर के बीचों बीच महज कुछ कदम के फासले पर ही 05/08/2020 को राम जन्मभूमि आयोजन वाले दिन ही शराब का ठेका खोल दिया गया जिसका स्थानीय लोगों ने विरोध किया ।

इसी क्रम में आज वार्ड नं 26 भूड़, सुंदर पूरी, माधो पूरा के समस्त निवासियों ने भी इकट्ठे होकर शासन-प्रशासन के खिलाफ रोष व्यक्त किया है। कुछ लोगों का कहना है कि शराब के ठेकेदार का कहना है कि उसके सत्ताधारी पार्टी में काफी अच्छे सम्बन्ध है तो पब्लिक चाहे कितना भी विरोध करे कोई भी कुछ नहीं बिगाड़ सकता। ठेका यहीं चलाएगा। अत: क्षेत्रवासियों ने सर्वसम्मति से निर्णय लिया है कि जब तक शराब का ठेका स्थानांतरित नहीं किया जाता तब तक समस्त क्षेत्रवासी धरना प्रदर्शन जारी रखेंगे चाहे इसके लिए उन्हें भूख हड़ताल भी करनी पड़ी तो वह भी करेंगे। प्रदर्शन के दौरान मौके पर संजू रानी, बबिता, पूनम व रोज़ी आदि महिलाएं उपस्थित थीं।

%d bloggers like this: