किन प्रमुख नेताओं ने सबसे पहले राजनेताओं को कोरोना वैक्सीन देने की मांग की है, जानें

Spread the love

 देश में 16 जनवरी को कोरोना वायरस के खिलाफ टीकाकरण अभियान शुरू होने जा रहा है। इसे लेकर पूरे जोर-शोर के साथ तैयारियां चल रही हैं। आज कोविशील्ड वैक्सीन की पहली खेप सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया, पुणे से ट्रकों में भरकर रवाना भी हो गई है। इस बीच पुडुचेरी के मुख्यमंत्री वी नारायणसामी ने नेताओं और मंत्रियों को पहले वैक्सीन देने की मांग की है। दरअसल कई नेताओं का मानना है कि कोरोना वैक्सीन को लेकर लोगों के मन में संशय है, जिसे दूर करने के लिए सबसे पहले नेताओं और मंत्रियों को टीका लगवाना चाहिए। इसे लेकर सीएम नारायणसामी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र भी लिखा है। नारायणसामी ने कहा, ‘मैंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है कि वे राजनीतिक दलों के नेताओं, मंत्रियों और विधायकों को पहले चरण में टीकाकरण करने की अनुमति दें और एक उदाहरण सेट करें ताकि लोगों को विश्वास हो सके।’ इससे पहले कुछ नेता सबसे पहले प्रधानमंत्री को कोरोना की वैक्सीन देने की मांग कर चुके हैं। बिहार कांग्रेस विधायक दल के नेता अजीत शर्मा ने कहा था कि भारत की दो कंपनियों द्वारा लाई गई दोनों वैक्सीन को लेकर आम आदमी के मन में कुछ संशय है। उसे दूर करने के लिए रूस और अमेरिका के राष्ट्रध्यक्षों ने जिस तरह सबसे पहले टीका लेकर जनता को विश्वास में लिया है। उसी तरह सबसे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा के वरिष्ठ नेता सबसे पहले टीका लेकर जनता को विश्वास में लेने का काम करें।वहीं, पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राशिद अल्वी भी यह मांग कर चुके हैं। उनका कहना है कि कोरोना का टीका सबसे पहले प्रधानमंत्री और उनके मंत्रियों को लगवाना चाहिए। ऐसा करने से लोगों में विश्वास पैदा होगा कि टीका लगने से कोई नुकसान नहीं होगा, ताकि लोग टीका लगवाने को लेकर सुरक्षित महसूस करें।

%d bloggers like this: