केजरीवाल सरकार का बड़ा ऐलान- सभी राशन कार्ड धारकों को 2 महीने तक मुफ्त मिलेगा राशन

Spread the love

दिल्ली सरकार सभी ऑटो और टैक्सी ड्राइवरों को 5,000 रुपये देगी. इसके साथ-साथ राशन कार्ड धारकों को अगले दो महीने मुफ़्त राशन दिया जाएगा.

देश में कोरोना का कहर जारी है. कोरोना के बेकाबू हो रहे मामलों के बीच दिल्ली की अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) सरकार ने बड़ा ऐलान किया है. दिल्ली सरकार ने सभी ऑटो और टैक्सी ड्राइवरों को 5,000 रुपये देकर उनकी मदद करेगी, ताकि इस आर्थिक तंगी के दौर में उनको थोड़ी मदद मिल सके. इसके अलावा दिल्ली में राशन कार्ड धारकों को अगले दो महीने मुफ़्त में राशन दिया जाएगा. दिल्ली में लगभग 72 लाख राशन कार्ड धारक हैं. केजरीवाल ने कहा कि इसका मतलब ये नहीं है कि लॉकडाउन दो महीने चलेगा.

दिल्ली सरकार सभी ऑटो और टैक्सी चालकों को 5,000 रुपये देकर उनकी मदद करेगी ताकि इस आर्थिक तंगी के दौर में उनको थोड़ी मदद मिल सके.

बता दें कि दिल्ली में मौजूदा लॉकडाउन 3 मई को खत्म हो रहा है जिसे एक हफ्ते के लिए और बढ़ा दिया गया है. अब 10 मई सुबह 5 बजे तक राजधानी में लॉकडाउन लागू रहेगा. इस दौरान पहले जैसी ही पाबंदियां लागू रहेंगी. साल 2021 में ऐसा दूसरी बार है जब ‘आप’ सरकार ने लॉकडाउन बढ़ाने की घोषणा की है. कोरोना संक्रमण नियंत्रित करने के लिए दिल्ली में पहली बार प्रतिबंध 19 अप्रैल को लगाए गए थे. राजधानी में संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए पहले ही कयास थे कि लॉकडाउन बढ़ाया जा सकता है

वहीं, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बीते 24 घंटों के दौरान कोविड-19 से रिकॉर्ड 448 लोगों की मौत दर्ज की, गईं जबकि इस दौरान 18,043 नए मामले सामने आए जो 15 अप्रैल के बाद से सबसे कम हैं. वहीं, एक दिन में जान गंवाने वालों का यह रिकॉर्ड आंकड़ा है. इससे पहले कभी भी एक दिन में इतनी मौतें नहीं हुईं ती. दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी एक बुलेटिन के मुताबिक संक्रमण दर 29.56 प्रतिशत दर्ज की गई. यह लगातार तीसरा दिन है जब राष्ट्रीय राजधानी में महामारी से मरने वालों की संख्या 400 के पार है.

राष्ट्रीय राजधानी में रविवार को अपेक्षाकृत कम (61045) नमूनों की जांच की गई, जिनमें से 18043 संक्रमित पाए गए. यह 15 अप्रैल के बाद से सबसे कम आंकड़ा है जब 16699 लोग संक्रमित मिले थे. बुलेटिन के मुताबिक एक दिन पहले 1611 लोगों को टीके की खुराक दी गई जो अब तक सबसे कम है. इनमें 1260 लोगों ने पहली खुराक ली. बुलेटिन के मुताबिक संक्रमण दर दूसरे दिन 30 प्रतिशत से कम रहा. रविवार को संक्रमण दर 28.33 प्रतिशत दर्ज की गई थी.

%d bloggers like this: