देश के लिए शराब क्या इतनी आवश्यक है ?

Spread the love

नोएडा : पूरे जनपद गौतमबुद्धनगर मे दो दिन शनिवार और रविवार की संपूर्ण लाँक डाउन चल रही है यह लाँक डाउन सिर्फ नोएडा मे ही नही बल्कि पूरे प्रदेश मे लगाया जा रहा है और इसका नाम से साप्ताहिक संपूर्ण लाॅक डाउन। लेकिन 30-40 प्रतिशत लोग किसी कारण से या बिना किसी कारण के घर से बाहर रह रहे है। यह तो लोगों के ऊपर भी है कि लाॅक डाउन का संपूर्ण पालन करे , लेकिन लोग इससे बचते हुए खुलेआम नियम का धज्जियाँ उड़ा रहे है। हालाँकि पुलिस प्रशासन के द्वारा लगातार इस मामले मे कारवाई भी किये जा रहे है।

शहर मे कई नारे और स्लोगन गुंजते हमने देखा है। यह कानून मजदूर विरोधी है। सरकार मजदूर विरोधी है। प्रशासन मजदूरों के साथ अन्याय कर रही है। महिलाओं के साथ शोषण किया जा रहा है । ये सभी स्लोगन देने वाले किसी न किसी राजनीतिक पार्टी और सोशल वर्कर होते है। लेकिन कभी यह स्लोगन नही लगाते कि शराब के कारण समाज का शोषण हो रहा है। क्योंकि जिस दिन ऐसा होने लगा उसी दिन 50 प्रतिशत समाज अपने आप सुधर जायेंगे। लेकिन ऐसा होगा नही क्योंकि चंदा रे कहाँ से मिलेंगे। क्यों कोई समाज के इस कलंक को दूर करने के लिए जेल भरों आन्दोलन नही चलाता है ?

सबसे महत्वपूर्ण बात ये है कि इस बिमारी मे सबसे ज्यादा गरीब लोग परेशान हो रहे है। खासकर रोज कमाने वाले और खाने वाले लोग। रेहड़ी पटरी और सब्जी विक्रेता। बाजार लगाकर सामान बेचने वाले, तथा छोटे मोटे होटल चलाकर अपना और अपने आस पास के लोग जो खाना नही बना रहे है उनके लिए भोजन की व्यवस्था करने वाले लोग सबसे ज्यादा परेशान है।

शनिवार रविवार बंद होने के चक्कर मे सब्जी वाले की कच्ची सब्जी खराब हो जाते है। किसाने के खेत मे सब्जी खराब हो रहे है। क्योंकि लाॅक डाउन के चक्कर मे सब्जी नही बिकते है और रेहड़ी पटरी वाले भी अपने खराब हुए सब्जी को सोमवार के दिन कचरे मे डाल देते है। क्योंकि कच्ची सब्जी को ठीक से रखने के लिए उनके पास कोई व्यवस्था नही होते है। रोज कमाने और रोज खाने वाले इन लोगों को दो दिन की कमाई चली जाती है उसके बाद उनका फल सब्जी भी खराब हो जाते है। यही हाल किसानों का भी है सब्जी खेत मे ही बर्बाद हो जाते है।

ये सभी आवश्यक सामान के दुकानों को बंद करके सरकार शराब की दुकान खोलने की परमिशन दे रही है। क्या शराब लोगों के लिए साग सब्जी और अनाज से ज्यादा आवश्यक या अति आवश्यक होती जा रही है। शराब के कारण लगातार परिवार मे कलेश बढ़ते जा रहे है। लोगों के नौकरी जा चुकी है लेकिन लत नही। लत लगने पर अपने घर मे बच्चे और परिवार के साथ मार-पीट करने जैसी घटना बढती जा रही है। जैसा कि WHO की एक रिपोर्ट मे छपी थी कि लाॅक डाउन के दौरान महिलाओ के साथ हिंसा अधिक हुई है।

इसका मुख्य कारणो मे से 60 प्रतिशत लोगों में शराब की लत एक मुख्य कारण रहा है। आज अपराध फिर से चरम सीमा पर है और कोई अपराधी ऐसा नही है जिसने खाने के लिए चोरी और छिना झपटी करते मिलता हो। अपराध की मुख्य कारण नशा है। लोगों के पास काम धंधा नही है लेकिन लत तो है ही पीने के लिए कुछ भी करने को तैयार है। सभी बड़े से छोटा अपराध का ज्यादातर कारण नशा ही है। लेकिन सरकार को इसमे राजस्व दिखाई दे रही है। दो प्रदेश ऐसा भी तो है जहाँ बिना शराब की बिक्री के भी सरकार चल रहे है।

यहाँ पर मामला राजस्व का नही मामला चंदा की है। राजनीतिक मे गहरे पैठ ऱखने वाले लोगों को ठेका दिया जाता है। जो करोड़ो करोड़ो की चंदा देते है। इन ठेकेदारों के पास कुर्सी खरीदने की पूरी शक्ति है। जब राजनीति हो ही सिर्फ कुर्सी के लिए रही है तो समाज के बारे मे कौन सोचने के लिए बैठा है। जब समाज ही अपने बारे मे नही सोच रही है।

आज शहर मे घुमता रहा शराब की दुकान खुली रही और भोजनालय बंद रहा। देखकर मन व्यथित होता रहा और मै शराब की दुकानों का फोटो खिचता रहा। भूख लगा था भोजन करने के लिए कोई भी छोटा मोटा होटल नही मिला कि भोजन कर लू। अब आप लोग सोचेंगे की मै घुम क्या रहा था ।

मै एक पत्रकार हू इसलिए घुम रहा था क्योंकि नही घुमेंगे तो समाज को आईना कैसे दिखायेंगे।

  • Quantity: 10 ml; Item Form: Oil, Kumkumadi oil is formulated to help skin look young and healthy. In Ayurveda, it is known as ‘saffron oil’ and it helps illuminate skin color. It lightens complexion, makes skin fair and add radiance to the skin. This skin oil also removes pimples, blemishes, scars and wrinkles naturally.
  • Kumkumadi oil imparts moisturization and helps in smoothening the skin naturally. The thoughtful blend of herbs helps lighten the dark spots / blemishes and gives new glow and radiance to the face. Being rich in antioxidants, it helps reduce dark circles. Also, it helps enhance the skin complexion.
  • Usage: Apply few drops on the face & massage, no need to wash off or as directed by physician
  • Target Audience: All Adults
  • 100% Herbal and Natural | No added Fragrance or Colour | Chemical & Paraben Free | No Mineral Oil or Petroleum by-products used
%d bloggers like this: