भारतीय वायुसेना प्रमुख, लद्दाख-कश्मीर में लिया तैयारियों का पूरा जायजा

Spread the love

लद्दाख की गलवान घाटी में चीन के साथ चल रहे टकराव के बीच वायुसेना प्रमुख राकेश कुमार सिंह भदौरिया ने की सुरक्षा की समीक्षा की.


चीनी सेना की हर हरकत पर नजर रखने के लिए तीनों सेनाओं ने अपनी तैनाती बढ़ा दी है. सेना ने पूरे एलएसी पर सैनिकों की संख्या बढ़ाई है. वायुसेना के सभी बेस फुल अलर्ट पर हैं और लड़ाकू जहाज टेक ऑफ कर रहे हैं. वहीं नौसेना के टोही विमान के जरिए समंदर में लगातार चीनी जहाजों पर नजर रखी जा रही है.

इसी बीच, बुधवार रात वायुसेना प्रमुख राकेश कुमार सिंह भदौरिया ने लेह और श्रीनगर एयर बेस का दौरा किया. उन्होंने लद्दाख और कश्मीर में तैयारियों का जायजा लिया. चीन के साथ जारी विवाद में बॉर्डर के पास लेह और श्रीनगर एयरबेस काफी अहम हैं. ऐसे में वायुसेना प्रमुख का यह दौरा काफी अहम है.

सरकार के सूत्रों के मुताबिक, “एयरफोर्स चीफ दो दिन के दौरे पर थे. पूर्वी लद्दाख में चीन ने 10 हजार सैनिकों की तैनाती की है. इसके मद्देनजर उन्होंने LAC पर जारी तनाव को ध्यान में रखते हुए ऑपरेशनल तैयारियों का जायजा लिया.”


17 जून को एयरफोर्स चीन लेह का दौरा किया था. 18 जून को वह श्रीनगर एयरबेस पहुंचे. दोनों एयरबेस पूर्वी लद्दाख के सबसे ज्यादा नजदीक हैं. वायुसेना के किसी भी सैन्य ऑपरेशन के लिए सबसे उपयुक्त हैं. यहां से चीन की गतिविधियों पर अच्छी तरह से नजर रखी जा सकती है.

%d bloggers like this: