सूबेदार की अंतिम यात्रा में उमड़ा जनसैलाब, हिंदुस्तान जिंदाबाद के लगे नारे

Spread the love

सेना के जेसीओ सूबेदार योगेश तोमर का पार्थिव शरीर मंगलवार शाम 4 बजे गांव अतरौली पहुंचा। जवान की अंतिम यात्रा में जनसैलाब उमड़ पड़ा। शाम को उनका राजकीय और सैन्य सम्मान के साथ श्मशान घाट पर अंतिम संस्कार किया गया। सूबेदार के बड़े बेटे प्रियम ने उन्हें मुखाग्नि दी। इस दौरान लोग हिंदुस्तान जिंदाबाद के नारे लगा रहे थे। बता दें कि हिमाचल प्रदेश के सोलन में होटल की इमारत के मलबे में दबकर जवान की जान चली गई थी। वह रविवार को 4वीं असम बटालियन के जवानों के साथ रेकी के लिए जा रहे थे। वह खाना खाने के लिए वहां रुके, इस दौरान होटल की इमारत भरभराकर गिर गई।

सोमवार रात जवान का पार्थिव शरीर चंड़ीगढ़ लाया गया। इसके बाद सड़क मार्ग से पार्थिव शरीर को मेरठ कैंट लाया गया। रविवार शाम 4 बजे के आसपास गांव अतरौली पहुंचा। जब पार्थिव शरीर घर पहुंचा तो मां कृष्णा देवी, पत्नी ममता और परिवार के अन्य सदस्यों का रो-रोकर बुरा हाल था। पत्नी तो बार-बार बेहोश हो रही थी। श्मशान घाट पर अंतिम संस्कार से पहले सेना ने गार्ड ऑफ ऑनर दिया। शाम 6 बजे के आसपास उनके बड़े बेटे ने मुखाग्नि दी। इस दौरान विधायक डॉ. मंजू सिवाच, एसडीएम डी.पी. सिंह, सीओ मोदीनगर के.पी. मिश्रा, नायब तहसीलदार नीरज द्विवेदी, भाजपा नेता नरेश अमराला सहित हजारों लोग मौजूद थे। वहीं, मेरठ से सेना के मेजर दीपक रघुवंशी 50 सैनिकों के साथ अंतिम यात्रा में शामिल होने के लिए आए थे।

%d bloggers like this: