मानव अधिकार दिवस

Spread the love

दिनांक 10 दिसंबर 2012 को मानवाधिकार दिवस के अवसर पर जिला कारागार गौतम बुध नगर में निरुद्ध बंदियों को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक करने के उद्देश्य से विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। मानवाधिकार दिवस का आयोजन माननीय जनपद न्यायाधीश गौतम बुद्ध नगर के दिशा निर्देशन में किया गया जिसकी अध्यक्षता श्रीमती मीनाक्षी सिन्हा सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण गौतम बुध नगर द्वारा की गई।

विधिक साक्षरता शिविर में उपस्थित बंदियों को मौलिक अधिकार व मौलिक कर्तव्यों के संबंध में बताया गया तथा यह भी अवगत कराया कि सामान्य जीवन यापन के लिए प्रत्येक मनुष्य के अपने परिवार, कार्य ,सरकार, और समाज पर कुछ अधिकार होते हैं जो आपसी समझ और नियमों द्वारा निर्धारित होते हैं। जिला कारागार में निरुद्ध बंदीगण भी गरिमा और अधिकार के मामले में स्वतंत्र और बराबर है तथा सभी मनुष्यों को गौरव और अधिकार के मामले में जन्मजात स्वतंत्रता और समानता प्राप्त है

मानव अधिकार के अंतर्गत प्रत्येक व्यक्ति को बिना किसी भेदभाव के सभी प्रकार के अधिकार और स्वतंत्रता प्रदान की गई है। इसके साथ यह ही बताया कि जिला कारागार में निरुद्ध बंदीगणों को अपने संबंधित मुकदमों में निशुल्क विधिक सहायता पाने का अधिकार प्राप्त है। कार्यक्रम में उपस्थित बंदीगण द्वारा अपने मुकदमों से संबंधित समस्याओं से भी उपस्थित पदाधिकारीगण को अवगत कराया गया जिनके विधि अनुसार निवारण हेतु आवश्यक कार्रवाई किए जाने का आश्वासन भी दिया गया।

उक्त अवसर पर श्री विपिन मिश्र अधीक्षक जिला कारागार गौतम बुध नगर ,डॉक्टर श्री हरि शंकर गौतम के साथ जिला विधिक सेवा प्राधिकरण गौतम बुध नगर में नामित पराविधिक स्वयंसेवक श्री दिनेश भारद्वाज एवं श्रीमती विमलेश शर्मा के अतिरिक्त जिला कारागार प्रशासन के पदाधिकारीगण आदि उपस्थित रहे। उक्त कार्यक्रम अत्यंत सफल रहा।

%d bloggers like this: