गृह मंत्री अमित शाह ने विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए, अहमदाबाद में 55 करोड़ रुपये की लागत से रेलवे ओवरब्रिज का लोकार्पण किया

Spread the love

केंद्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह ने विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए गुजरात के अहमदाबाद में 55 करोड़ रुपये की लागत से नवनिर्मित थलतेज–शीलज–राचरडा रेलवे ओवरब्रिज का लोकार्पण किया

श्री नरेंद्र मोदी जी ने प्रधानमंत्री बनने के बाद देश में मूलभूत सुविधाओं की दिशा में जो समस्याए थीं उन्हें समाप्त करने का अभियान शुरू किया है

एक लाख रेलवे क्रोसिंग को ओवरब्रीज या अंडरब्रीज के माध्यम से फाटक रहित बनाने का कार्य शुरू हुआ है

2009 से 2014 में लगभग 900 मानव रहित क्रोसिंग समाप्त करने का काम हुआ जबकि 2014 से 2020 तक लगभग 3584 मानव रहित क्रोसिंग को खत्म करने का कार्य हुआ

कोरोना काल में भारत सहित दुनियाभर की अर्थवयवस्था की गति धीमी हुई, लेकिन भारत का अर्थतंत्र आज तेज गति से खडा हुआ, जो दुनियाभर में चर्चा का विषय बना है

दुनिया का सबसे बडा टीकाकरण कार्यक्रम श्री नरेन्द्र मोदी जी ने चालू किया, इसके पूर्ण होने के साथ हम कोविड महामारी पर संपूर्ण विजय प्राप्त कर देश की प्रगति को आगे बढाने का कार्य करेंगे

केंद्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह ने आज नई दिल्ली से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए गुजरात के अहमदाबाद शहर में 55 करोड़ रुपये की लागत से नवनिर्मित थलतेज–शीलज–राचरडा रेलवे ओवरब्रिज का लोकार्पण किया। कार्यक्रम में गुजरात के उपमुख्यमंत्री श्री नितीन भाई पटेल समेत अनेक गणमान्य लोग उपस्थित थे।

 इस अवसर पर अपने सम्बोधन में श्री अमित शाह ने कहा कि श्री नरेंद्र मोदी जी ने प्रधानमंत्री बनने के बाद देश में मूलभूत सुविधाओं की दिशा में जो समस्याए थीं उन्हे समाप्त करने का अभियान शुरू किया है। देश में लगभग एक लाख से ज्यादा रेलवे क्रोसींग पर ट्रेफिक की बहुत बडी समस्या थी। दिनभर में 100 बार से अधिक रेलवे फाटक खुलते और बंद होते जिससे पेट्रोल-डीजल का बहुत अधिक खर्च होने के साथ ही समय की बरबादी भी होती थी। 

इसे देखते हुए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने निर्णय लिया और रेल मंत्री श्री पीयूष गोयल के नेतृत्व में एक बडा अभियान शुरु किया गया जिसमे लगभग एक लाख रेलवे क्रोसिंग को ओवरब्रीज या अंडरब्रीज के माध्यम से फाटक रहित बनाने का कार्य शुरू हुआ। उसी योजना के तहत आज इस ओवरब्रीज का लोकार्पण हुआ है। गांधीनगर लोकसभा क्षेत्र के सभी मतदाताओ को बधाई देते हुए श्री शाह ने कहा कि हमारे विकास के बीच जो एक बडी अड़चन थी उसे दूर करने का कार्य आज भारत सरकार और गुजरात सरकार ने किया है।



 केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि रेलवे सभी मानव रहित फाटक समाप्त करने का काम कर रहा है जिसके तहत 2022 तक देश के अंदर लगभग एक भी मानव रहित फाटक नहीं होगा जिससे दुर्घटनाएँ कम हो जाएंगी। नवनिर्मित ओवरब्रिज के तुलनात्मक आंकडे देते हुए श्री अमित शाह ने कहा कि 2009 से 2014 में लगभग 900 मानव रहित क्रोसिंग को समाप्त करने का काम हुआ था जबकि 2014 से 2020 तक लगभग 3584 मानव रहित क्रोसिंग को खत्म करने का कार्य हुआ। लगभग 3.5 गुना ज्यादा कार्य हुआ है और अब तक 8900 से ज्यादा ओवरब्रीज, अंडरब्रीज बनाने का काम लगभग पूर्ण हो गया है।

 श्री अमित शाह ने कहा कि आज़ादी के 70 साल बाद भी 20 हजार से ज्यादा ऐसे गाँव थे जहाँ तक बिजली पहुँची नहीं थी, दो साल के ही अंदर 2017 तक भारत के सभी गाँवो में बिजली पहुँचाने का कार्य प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने पूरा किया। 60 करोड लोग ऐसे थे जिनके परिवार में एक भी बैंक अकाउन्ट नहीं था। आज मैं गौरव के साथ कह सकता हूँ कि सभी परिवार के पास कम से कम एक बैंक अकाउन्ट देने का कार्य भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने किया है।

लगभग 30 करोड़ की आबादी और 10 करोड से ज्यादा परिवार के पास घर की समस्या थी। आज जिस प्रकार से ग्रामीण और शहरी क्षेत्र में हाउसिंग प्रोजेक्ट का कार्य चल रहा है, उससे मैं पूरे विश्वास से कह सकता हूँ की 15 अगस्त 2022 तक देश के सभी नागरिकों को घर देने की व्यवस्था श्री नरेन्द्र मोदी की सरकार कर सकती है। केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि गरीब के घर में बीमारी आती है तो, महँगा इलाज गरीब कैसे कराएं, यह एक बड़ी समस्या होती है। लेकिन आयुष्मान भारत योजना लाकर प्रधानमंत्री मोदी ने सभी 60 करोड गरीबों को 5 लाख तक की सभी स्वास्थ्य सेवाएँ मुफ्त में मिले उसकी व्यवस्था की।



 केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि भारत सरकार की सभी योजनाओं का गुजरात को का सबसे बडा फायदा मिला है। उसका मूल कारण तेज गति से निर्णय़ लेने कि पद्धति और अमलीकरण यानि त्वरीत कार्य सिस्टम है। कई प्रकार के ईन्फ्रास्ट्रक्चर कार्य गुजरात में बड़े ही सुंदर तरीके से हुए है। अभी हाल ही में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने सूरत और अहमदाबाद मेट्रो के चरण-2 की शुरआत की। कई अन्य कार्य जैसे बीआरटीएस प्रोजेक्ट भी हमारे अहमदाबाद में सुंदर तरीके से चल रहे हैं। पीने के पानी की सुविधा हो,  सड़कों को बंदरगाहों से जोड़ने का कार्य, यात्राधाम को सड़कों से जोड़ना, 24 घंटे बिजली पहुँचाना और किसानों को दिन में बिजली देने का काम हो, सभी क्षेत्रो में गुजरात सरकार ने बहुत ही उत्कृष्ट कार्य किया है। इसके परिणाम स्वरूप ईन्फ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में पिछले 20 साल में जितने कार्य हुए थे उतने कार्य 6 साल में मोदी सरकार ने पूरे किए हैं।  



 श्री अमित शाह ने कहा कि कोरोना के कारण भारत सहित दुनियाभर की अर्थव्यवस्था की गति धीमी हुई, लेकिन भारत का अर्थतंत्र आज तेज गति से खड़ा हुआ है, जो दुनियाभर में चर्चा का विषय बना है। अभी हाल ही में आए आंकड़ो के अनुसार पिछले महीने बिजली खपत, जो अर्थतंत्र के विकास के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण सूचकांक माना जाता है, वह अब तक के सबसे उच्च स्तर पर पहुँच गई। इसका मतलब यह है की हमारा अर्थतंत्र फिर से गति पर आ गया है। दुनिया का सबसे बडा टीकाकरण कार्यक्रम भी श्री नरेन्द्र मोदी जी ने चालू किया है। यह गुजरात में भी खूब सुचारु रूप से चल रहा है। श्री शाह ने कहा कि उन्हें विश्वास है कि टीकाकरण की यह प्रक्रिया पूर्ण होने के साथ ही हम कोविड महामारी पर संपूर्ण विजय प्राप्त कर देश को प्रगति को तीव्र कर सकेंगे।
%d bloggers like this: