ग्रेटर नोएडा:21 विदेशी नागरिकों को जेल से पुलिस लाइन में किया शिफ्ट

Spread the love

ग्रेटर नोएडा;विभिन्न सेक्टरों और सोसायटियों में चलाए गए ऑपरेशन क्लीन-10 के तहत हिरासत में लेकर शांतिभंग की धाराओं में जेल भेजे गए विदेशी नागरिकों की 14 दिन की न्यायिक हिरासत पूरी हो चुकी है। ऐसे में पुलिस ने जेल से छूटे 21 विदेशी नागरिकों को पुलिस लाइन स्थित अस्थायी डिटेंशन सेंटर में शिफ्ट किया है। ये सभी ऐसे विदेशी नागरिक हैं जो आज तक अपना पासपोर्ट और वीजा पुलिस को नहीं दिखा सके हैं।

बता दें कि बीते दिनों 10 जुलाई को पुलिस ने ग्रेटर नोएडा के विभिन्न सेक्टरों व सोसायटियों में ऑपरेशन क्लीन-10 अभियान चलाया था। जिसके तहत पुलिस ने अवैध रूप से ग्रेनो में रह रहे विदेशी नागरिकों पर कार्रवाई की थी। बिना वीजा-पासपोर्ट के रह रहे 60 विदेशी नागरिकों को हिरासत में लिया गया था। सभी को पुलिस लाइन में रखा गया था। जहां से 20 विदेशी नागरिक पुलिसकर्मियों से मारपीट कर फरार हो गए थे। जिनमें से 17 विदेशी नागरिक आज तक पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं। वहीं, पुलिस जांच में 9 विदेशी नागरिकों की वीजा अवधि समाप्त मिली थी, जबकि 8 के वीजा फर्जी पाए गए थे। विदेशी नागरिकों के पुलिस लाइन से भागने के बाद शेष 31 को शांतिभंग के आरोप में जेल भेज दिया गया था।

6 नागरिकों को भेजा गया उनके देश

पुलिस के अनुसार, जेल में बंद 31 विदेशी नागरिकों में से 6 को उनके देश भेजा जा चुका है। उन्हीं में से एक को जिला अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है। वहीं, 1 विदेशी नागरिक को देहरादून में चल रहे मुकदमे में वहां की कोर्ट में पेश किया गया है। इसके अलावा दो को कागजात की जांच के बाद रिहा कर दिया गया था। इनके अलावा शेष 21 विदेशी नागरिकों की 14 दिन की रिमांड पूरी होने पर रिहा होने के बाद पुलिस लाइन स्थित अस्थायी डिटेंशन सेंटर में रखा गया है।

%d bloggers like this: