उत्तर प्रदेश सरकार के महत्वाकांक्षी योजना , एक जनपद एक उत्पाद

Spread the love

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ के महत्वाकांक्षी योजना एक जनपद एक उत्पाद से घरेलू तथा हथकड़घे उद्योग को बल मिलेगा। इस योजना का मुख्य उद्देश्य उन कलाओं एवं उत्पादों को बढ़ावा देना है जो देश में कही नही है। जैसे प्राचीन एवं पौष्टिक कालानमक चावल, दुर्लभ एवं अकल्पनीय गेहूँ डंठल शिल्प, विश्व प्रसिद्ध चिकनकारी, कपड़ों पर ज़री-

इस कार्यक्रम से देश की संस्कृति तथा कलाकृति के साथ-साथ रोजगार सृजन करने में भी सहायता मिलेगा। इसके साथ ही घर के महिलाएँ आत्मनिर्भर हो सकेगी। तदनुसार गौतम बुद्ध नगर जिले को यूपी द्वारा सिटी ऑफ अपेरल घोषित किया गया है। प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में जल्द ही टेक्सटाईल्स पार्क का निर्माण किया जा रहा है जो कि यमुना एक्सप्रेसवे सेक्टर 29 में होगा। जो कि जेवर हवाई अड्डा के पास में है। इसी तरह, नोएडा को हाल ही में विदेश व्यापार महानिदेशालय (डीजीएफटी), वाणिज्य मंत्रालय और इंडस्ट्रीज़ वाई द्वारा परिधान के लिए टाउन ऑफ एक्सपोर्ट एक्सीलेंस की सूची में शामिल किया गया है।

जैसा कि नोएडा को पहले से ही वस्त्र उद्योग के लिए जाना जाता है। जहाँ पर लगभग 3 हजार रेडीमेड वस्त्र उद्योग है । यहाँ पर उत्पादन के साथ-साथ निर्यात के लिए भी लगभग 850 औद्योगिक ईकाई है जिसमें 10 हजार करोड़ की पूंजी का निवेश किया गया है और वर्तमान में कार्यरत है। यह उपक्रम के माध्यम से लगभग लाख लोगों को रोजगार मिलता है जिसमें 60 प्रतिशत महिलाएँ शामिल है। 25 हजार करोड़ का सालाना कारोबार है जिसमें से 20 हजार करोड़ का निर्यात किया जाता है। नोएडा पूरे भारत के गारमेंट उत्पादन में 20% प्रतिशत उत्पादन सिर्फ नोएडा से किया जाता है।

नोएडा अपेरल एक्सपोर्ट क्लस्टर (एनएईसी) , रजिस्टर्ड बाॅडी है जो कि पूरी तरह से वचनवद्ध है ।नोएडा को परिधान उद्योग का रूप देने के लिए और इसके प्रचार के लिए NAEC ने सेक्टर 14 ए में उद्योग के सौंदर्यीकरण और सामान्य जागरूकता के लिए अंडरग्राउंड का एक हिस्सा सजाया। जिसका उद्घाटन श्रीमती रितु महेश्वरी ने किया।

%d bloggers like this: