उपमुख्यमंत्री-गृहमंत्री ने कहा-मंत्री मिले दोषी, तो होगी कड़ी कार्रवाई

Spread the love

कर्नाटक के जल संसाधन मंत्री रमेश जरकीहली पर लगे यौनशोषण के आरोप पर उपमुख्यमंत्री और गृहमंत्री ने कहा है कि अगर मंत्री मिले दोषी, तो होगी कड़ी कार्रवाई.

कर्नाटक में येदियुरप्पा सरकार के जल संसाधन मंत्री रमेश जरकीहोली पर नौकरी का झांसा देकर यौन उत्पीड़न करने का आरोप सामने आने के बाद हड़कंप मचा है. मंत्री के खिलाफ पुलिस में दर्ज कराई गई शिकायत में कहा गया है कि उन्होंने नौकरी का झांसा देकर उन्होंने एक महिला का यौन उत्पीड़न किया है. बाद में उनके परिवार को गंभीर नतीजे भुगतने की धमकी भी दी है.

बता दें कि बेंगलुरु में दिनेश कल्लाहल्ली नाम के व्यक्ति ने उनके खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है. शिकायतकर्ता ने मांग की है कि कर्नाटक के मंत्री के खिलाफ जांच कराई जाए. इसके बाद उनके तथाकथित वीडियो की जांच की जा रही है और इसपर उपमुख्यमंत्री ने भी बयान दिया है.

उपमुख्यमंत्री ने कहा-वीडियो की जांच की जा रही है

उपमुख्यमंत्री सीएन असवथ नारायण ने कहा है कि मंत्री रमेश जरकीहोली के सेक्स टेप की जांच की जा रही है. जानकारी के मुताबिक मामला हनीट्रैप और ब्लैकमेलिंग का लग रहा है. जल्द ही सच सामने आ जाएगा.

वहीं, इस मामले में कर्नाटक के गृहमंत्री बी बोम्मई ने कहा है कि वीडियो की जांच कराई जा रही है. जो भी सच सामने आएगा उसे देखते हुए कार्रवाई की जाएगी. अगर मंत्री दोषी पाए गए तो उनपर भी कार्रवाई की जाएगी.

मीडिया की खबर के अनुसार, इस मामले में शिकायतकर्ता दिनेश कल्लाहल्ली ने जब बेंगलुरु शहर के पुलिस आयुक्त कमल पंत से मुलाकात की तो समाचार चैनलों पर जरकीहोली के तथाकथित वीडियो वायरल होने लगा. हालांकि अभी तक इस बात का खुलासा नहीं हो सका है कि समाचार चैनलों पर प्रसारित वीडियो कितना पुराना है.

मंत्री ने कहा- वीडियो फर्जी है, आरोप सही हुआ तो छोड़ दूंगा राजनीति

वहीं इस मामले में मंत्री कल्लाहल्ली ने कहा कि उन्हें नहीं पता है कि कल्लाहली कौन हैं? मैं किसी भी जांच का सामना करने के लिए तैयार हूं. राज्य में 4 मार्च बजट सत्र शुरु होने वाला है. उन्होंने कहा कि यह एक फर्जी वीडियो है. यहां तक कि मैं न उस महिला और न ही शिकायतकर्ता को जानता हूं. मैं मैसूर में था. मैं हाईकमान से मुलाकात करूंगा और इस पूरे मामले में अपना पक्ष स्पष्ट करूंगा. यदि ये आरोप सिद्ध होते हैं, तो मैं राजनीति और मंत्री पद दोनों ही छोड़ दूंगा.

%d bloggers like this: