कलेक्‍टर ने युवक को जड़ा थप्‍पड़, सोशल मीडिया में वीडियो वायरल होने के बाद मांगी माफी

Spread the love

कलेक्टर ने सरेआम युवक को चांटा मारा, मोबाइल फेंका, पुलिस से पिटवाया, वीडियो वायरल हुआ तो कोविड-19 नियमों की अनदेखी का हवाला दिया

छत्तीसगढ़ ( Chhattisgarh) के सूरजपुर जिले Surajpur District में लागू लॉकडाउन (COVID-19 lockdown) के दौरान कलेक्टर ( Collector) रणबीर शर्मा (Ranbir Sharma) ने एक युवक को थप्पड़ मारा और पुलिस ने उसकी पिटाई कर दी. घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल ( viral video) होने के बाद कलेक्टर ने अपने व्यवहार के लिए माफी मांगी है. कलेक्‍टर ने कहा है, आज के व्यवहार के लिए मैं दिल से माफी मांगता हूं. उस व्यक्ति का अनादर करने का मेरा कोई इरादा नहीं था. वहींं, सोशल मीड‍िया मेंं कलेक्‍टर को हटानेे की मांंग की जा रही है.

सूरजपुर जिले के पुलिस अधिकारियों ने बताया कि युवक की पहचान अमन मित्तल (23) के रूप में हुई है. उसके खिलाफ लॉकडाउन के कथित उल्लंघन ( violating COVID19 lockdown guidelines) के लिए मामला दर्ज किया गया है.

सोशल मीडिया में वायरल वीडियो में दिख रहा है कि मास्क लगाए एक युवक को पुलिस ने जब रोका तब वह कलेक्टर को एक कागज और मोबाइल फोन पर कुछ दिखाने की कोशिश कर रहा था. इस दौरान कलेक्टर ने उसका फोन लिया और उसे जमीन पर फेंक दिया. वीडियो नजर आ रहा है कि कलेक्टर ने युवक को थप्पड़ भी मारा. इसके बाद मौके पर मौजूद पुलिसकर्मी और अधिकारी वहां पहुंचे और दो पुलिस कर्मियों ने युवक की डंडे से पिटाई कर दी. वीडियो में कलेक्टर द्वारा युवक की पिटाई का आदेश देते हुए सुना जा सकता है.

वीडियो के वायरल होने के बाद कलेक्टर ने घटना के लिए माफी मांग ली है और कहा है कि लोग नियमों का पालन करें. सूरजपुर जिले के कलेक्टर रणबीर शर्मा ने अपने बयान में कहा, ”आज सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल है जिसमें मुझे एक आदमी को थप्पड़ मारते हुए दिखाया गया है जो लॉकडाउन के दौरान बाहर था. आज के व्यवहार के लिए मैं दिल से माफी मांगता हूं. उस व्यक्ति का अनादर करने का मेरा कोई इरादा नहीं था.”

कलेक्टर ने बयान में कहा, ”इस महामारी की स्थिति में सूरजपुर जिले समेत पूरे छत्तीसगढ़ राज्य को अपूरणीय क्षति का सामना करना पड़ रहा है. राज्य सरकार के हम सभी सरकारी कर्मचारी इस समस्या से निपटने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं.” कलेक्टर शर्मा ने कहा है कि वह और उनकी मां भी कोरोना वायरस से संक्रमित थे. उन्होंने कहा है कि वह अब ठीक हो गए हैं, लेकिन मां अब भी संक्रमित है. उन्होंने बताया कि घर पर ही उनकी मां का इलाज चल रहा है. उन्होंने कहा है कि वह जिले के सभी निवासियों से अपील करते हैं कि कोविड के उचित व्यवहार का पालन करें और घर पर ही रहें. इससे पहले कलेक्टर ने कहा था कि युवक मोटरसाइकिल में तेज गति से जा रहा था और उसने दुर्व्यवहार भी किया था.

लंबी लड़ाई लड़नी है। बनारस और पूर्वांचल के ग्रामीण इलाकों पर भी बहुत ध्यान देना है।
%d bloggers like this: