बेरोजगारी से ध्यान भटकाने में लगी केन्द्र सरकार -पुरुषोत्तम नागर

Spread the love


बेरोजगारी के खिलाफ बेपरवाह केन्द्र सरकार को जगाने के लिए अब कांग्रेस अनएंपलायमेंट रजिस्टर लाने वाली है। इसकी घोषणा युवा कांग्रेस के जिलाध्यक्ष पुरुषोत्तम नागर ने सेक्टर 29 स्थित प्रेस क्लब में आयोजित प्रेस वार्ता में कही।
प्रेस को संबोधित करते हुए यूथ कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव दीपक भाटी चोटीवाला ने केन्द्र सरकार पर आरोप लगाया कि बीते 5 सालोें में देश में बेरोजगारी दर में अप्रत्याशित बढ़ोत्तरी हुई है। मोदी सरकार ने हर वर्ष 2 करोड़ युवाओं को रोजगार देने का वादा किया था। नए रोजगार देने की बात छोड़ो जिनके पास जो रोजगार था वह भी छिन गया। युवाओं को रोजगार देने के बजाय केन्द्र सरकार देशवासियों को सीएए, एनआरसी और एनआरपी जैसे मुद्दों पर भटकाने में लगी है। देश के नागरिकों को सबसे पहले रोजगार चाहिए, मगर सरकार उन्हें भटकाने के लिए नए-नए कानूनों के माध्यम से उलझाने में लगी है। हिन्दू-मूस्लिम का मुद्दा लाकर दंगे कराने की फिराक में है।
यूथ कांग्रेस के जिलाध्यक्ष पुरूषोत्तम नागर ने कहा कि एनएसएओ के आंकड़ो के अनुसार भारत में बेरोजगारी 45 सालों में सबसे ज्यादा बढ़ी है। सीएमआईइ के आंकड़ों के मुताबिक अक्टूबर 2019 में बेरोजगारी दर बढ़कर 8.48 प्रतिशत पर पहुंच गई थी। सिर्फ 4 महीने के अंदर अकेले आॅटो सेक्टर से ही साढ़े 3 लाख से ज्यादा लोग बेरोजगार हुए थे।
महानगर अध्यक्ष सहाबुद्दीन ने कहा कि राष्ट्रीय अपराध ब्यूरो के आंकड़ों के अनुसार हर 2 घण्टे में 3 बेरोजगार आत्महत्या कर रहे हैं। साल 2018 मे 12936 बेरोजगारों ने आत्महत्या की थी। यह आंकड़ा देश में किसान आत्महत्या से भी ज्यादा है। देश की वर्तमान समस्या घुसपैठिये नहीं दर-दर भटकते शिक्षित बेरोजगार हैं। देश को नागरिकता रजिस्टर एनआरसी की नहीं बल्कि बेरोजगारों के रजिस्टर एनआरयू की जरूरत है। हमारा अभियान देश के वर्तमान समय की जरूरत है और इसे पहले किसी अभियान की तुलना में बड़े पैमाने पर लांच किया जाएगा।

प्रेस वार्ता के दौरान प्रदेश सचिव विदित चैधरी, महानगर अध्यक्ष सहाबुद्दीन,युवा कांग्रेस जिला अध्यक्ष पुरुषोत्तम नागर , प्रवक्ता पवन शर्मा, युवा कांग्रेस प्रदेश सचिव ललित अवाना, किसान कांग्रेस जिला अध्यक्ष गौतम अवाना,महिला जिलाध्यक्ष सुनीता शारदा, महिला महानगर अध्यक्ष पुष्पा काण्डपाल, ऋषि गौतम, रिजवान चौधरी, इन्द्रजीत तिवारी और दयाशंकर पाण्डेय उपस्थित रहे

%d bloggers like this: