newszine

बड़ी इलायची के हैरान करने वाली 5 फायदे

7 days ago Vatan Ki Awaz 0
इलायची दो प्रकार की होती हैं. एक छोटी और हरी इलायची और दूसरी बड़ी, भूरे रंग की. पर इसका ये मतलब बिल्कुल भी नहीं है कि दोनों के गुण भी एक जैसे हों. दोनों के गुणों में पर्याप्त अंतर होता है. भारतीय व्यंजनों में बड़ी इलायची का इस्तेमाल प्रमुखता से किया जाता है. मसालेदार व्यजंनों Read More

स्वामी विवेकानन्द जयंति पर एक लाख लोगो ने किया योग, बना तीन विश्व रिकार्ड

1 week ago Vatan Ki Awaz 0
वतन की आवाज दिल्ली : वी बी एस पूर्वांचल युनिवर्सिटी जौनपुर आज एक लाख से अधिक लोगों ने एक साथ किया योग। पतंजलि योग पीठ द्वारा 3 विश्व रिकार्ड्स बनाये गए । बाबा रामदेव तथा पतंजलि के टीम ने एक लाख लोगों के साथ किया योग। कार्यक्रम का आयोजन स्वामी विवेकानन्द जी के जन्म दिवस Read More

SHUDDH SHILAJEET (SAT)

2 weeks ago Vatan Ki Awaz 0
Shuddh Shilajit treats all types of diseases. And if some healthy person uses it with the prescribed method, they gets unbounded power, energy, strength, luster and aura. It also gives result in gout, cervical spondylosis, sciatica and backache. It is also beneficial in cold, cough, coryza, chill, allergy, breath problem, asthma, lungs weakness, tuberculosis, weak Read More

MUKTA VATI EXTRA POWER

2 weeks ago Vatan Ki Awaz 0
जैसा की आप जानते है कि आज लाखों लोग हाई बल्ड प्रेशर से पऱेशान है और मुक्ता वटी इस रोग को दूर करने मे पूरी तरह सफल है। अगर यह नित्य योग के साथ लिया जाये तो आप इस रोग से पूरी तरह से मुक्त रह सकते है। मुक्ता वटी पूर्ण रूप से आयुर्वेदिक है। Read More

AYURVEDA – THE NEW HEALTH MANTRA

2 weeks ago Vatan Ki Awaz 0
Mommies, grannies and aunties from the neighbourhood have been giving us gharelu nuskhas since time immemorial, on various troubles we face. Be it the homemade antidote to stress, cure to the adamant ache, pre and post do(s) and don’t(s) on various health troubles. Ever wondered where did all of this come from? AYURVEDA is a Read More

मुद्रा विज्ञान

4 months ago Vatan Ki Awaz 0
पुस्तक मुद्रा, ज्ञान मुद्रा, प्राण मुद्रा, पृथ्वी मुद्रा, वायु मुद्रा, अपान मुद्रा, शून्य मुद्रा, आकाश मुद्रा, सहज शंख मुद्रा, शंख मुद्रा, जलोदर नाशक, सूर्यमुद्रा, अपानवायु मुद्रा, वरुण मुद्रा, आदित्य मुद्रा, लिंग मुद्रा, ध्यान मुद् हमारा शरीर पाँच तत्त्वों से मिलकर बना है। इन पंचतत्त्वों में असन्तुलन और घटा- बढ़ी से रोगों की उत्पत्ति होती है। अंगुलियों की Read More

पसीने से पैदा हुए फूल

4 months ago Vatan Ki Awaz 0
यह उस समय की बात है जब भगवान श्रीराम शबरी से मिले थे। शबरी की कुटिया के चारों ओर ढेरों फूल लगे हुए थे। वे फूल कभी मुरझाते नहीं थे, सूखते नहीं थे और उनसे सदैव मीठी-मीठी सुगंध आती रहती थी। एसे सुदंर फूल देखकर श्रीराम ने शबरी से पूछा, ये फूल किसने लगाए है?” Read More

मृत शरीर

4 months ago Vatan Ki Awaz 0
#मृत_शरीर एक परिवार मे 4 सदस्य थे । पति-पत्नी दो बच्चे। सभी एक साथ बाजार गए । बाजार से वापसी के समय जिस रास्ते से आ रहे उसी रास्ते से कुछ लोग मृत शरीर (लाश) ले के जा रहे थे । बच्चे थोड़े चंचल थे । रास्ते मे आने जाने वाले साधनों में हाथ लगा Read More

अपना डॉक्टर खुद बने :श्री देवेंद्र शर्मा

4 months ago Vatan Ki Awaz 0
अपने डॉक्टर खुद बने 1= नमक केवल सेन्धा प्रयोग करें।थायराइड, बी पी, पेट ठीक होगा। 2=कुकर स्टील का ही काम में लें। एल्युमिनियम में मिले lead से होने वाले नुकसानों से बचेंगे 3=तेल कोई भी रिफाइंड न खाकर केवल तिल, सरसों, मूंगफली, नारियल प्रयोग करें। रिफाइंड में बहुत केमिकल होते हैं जो शरीर में कई Read More

सोने की रोटी

5 months ago Vatan Ki Awaz 0
सिकंदर में असाधारण प्रतिभा और योग्यता थी। वह विश्व विजेता बनना चाहता था। उसने अनेक देशों पर विजय प्राप्त की थी। विजय के उन्माद में उसने निर्ममतापूर्वक नर संहार किय, काफी धन-संपदा लूटी और अपने सैनिकों को मालामाल कर दिया। एक बार सिकंदर ने ऐसे नगर पर चढ़ाई की जहा केवल स्त्रियां और बच्चे ही Read More
Follow by Email
Facebook
Google+
https://vatankiawaz.com/category/%E0%A4%AF%E0%A5%8B%E0%A4%97">
Twitter
Pinterest
LinkedIn
Instagram