मानव प्रकृति के लिए खतरा है ?

आज चारो तरफ मानव में त्राहिमान मचा हुआ है, या कहे कि मानव अपने जीवन बचाने…

वतन की आवाज: कोरोना महामारी और अफरातफरी

कोरोना एक बार फिर से सिर उठा रहा है। जिससे अखबार के मुख्य पृष्ठ भरा पड़ा…

चिता की आग ठंडी नही होने दे रही है , कोरोना की कहर

सोशल मिडिया पर लगातार तस्वीरे वायरल किया जा रहा है। जिसमें बताया जा रहा है कि…

कानून के शासन की ऐसी-तैसी

सड़क पर कब्जे से लेकर सिर तन से जुदा करने की धमकियां सभ्य समाज को असुरक्षा…

‘ज्ञानवापी’ शिव के भाष्य से पड़ा नाम

ज्ञानवापी को लेकर मुकदमा में नियम कानून का हवाला दिया जाय या बात जांच परख तक…

चौबे जी से दूबे जी तक

-राजेश बैरागी-किसी राजनीतिक दल या अन्य प्रकार के संगठनों में पदों का क्या महत्व है? कद…

तलाक जिंदगी के साथ भी जिंदगी के बाद भी, एक युवती कि जुबानी।

आज समाज रहा नहीं हर कोई जिंदगी गफलत में जी रहा है। एक दूसरे के ऊपर…

बेटे का थप्पड़

-राजेश बैरागी-उस मां की मौत महज एक हादसा भी हो सकती है। अन्यथा थप्पड़ से कौन…

मानवतावादी खिन्न हैं कि हमारे मुस्लिम भाई खुश नहीं हैं

स्वयं और अन्य बहुत से मानवतावादी खिन्न हैं कि हमारे मुस्लिम भाई खुश नहीं हैं. मैं…

जिन्ना को पाकिस्तान के लिए और औवेसी इस्लाम के लिए वोट मिले।

आप जानकार हैरान होते होंगे की आखिर औवेसी और उनके पार्टी हिंदुओं से वोट क्यो नही…

%d bloggers like this: