ईरान के कब्जे में ब्रिटेन का तेल टैंकर, 18 भारतीय भी फंसे

Spread the love

खाड़ी में उत्पन्न हुए ताजा तनाव के बीच होरमज की खाड़ी में ईरान द्वारा जब्त किए गए ब्रिटिश झंडे वाले तेल टैंकर के 23 क्रू सदस्यों में जहाज के कप्तान के साथ 18 भारतीय भी शामिल हैं.
ब्रिटेन के विदेश सचिव जेरेमी हंट ने ईरान से खाड़ी में अवैध रूप से जब्त किए गए ब्रिटेन के टैंकर को रिहा करने का आग्रह किया है. खाड़ी में उत्पन्न हुए ताजा तनाव के बीच होरमज की खाड़ी में ईरान द्वारा जब्त किए गए ब्रिटिश झंडे वाले तेल टैंकर के 23 क्रू सदस्यों में जहाज के कप्तान के साथ 18 भारतीय भी शामिल हैं. ईरान के एक अधिकारी ने रविवार को कहा कि तेहरान द्वारा खाड़ी से कब्जे में लिए गए ब्रिटेन के तेल टैंकर के सभी सदस्य सुरक्षित हैं.

बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, हंट ने शनिवार को कहा कि यह होरमुज जलमरुमध्य से गुजरने वाले ब्रिटेन और अंतर्राष्ट्रीय जहाजों की सुरक्षा पर बहुत गंभीर सवाल उठाता है. वहीं, भारत ने कहा कि वह भारतीय नाविकों को छुड़ाने के लिए तेहरान के संपर्क में है. ईरान ने ब्रिटिश झंडे वाले जहाज-स्टेना इम्पेरो को शुक्रवार को जब्त किया है, जिसमें क्रू के तौर पर भारतीय, रूसी, लातवियाई और फिलिपिनो देशों के नागरिक कार्यरत हैं.

वहीं तेहरान ने कहा कि जहाज अंतर्राष्ट्रीय जलमार्ग नियमों का उल्लंघन कर रहा था. अपने ईरानी समकक्ष से फोन पर बात करने के बाद हंट ने कहा कि जिब्राल्टर में ईरानी टैंकर को जब्त करने के बाद ईरान ने इसे ‘जैसे को तैसा’ की नीति के तहत देखा. लेकिन उन्होंने कहा कि सच्चाई से आगे कुछ नहीं हो सकता. जहाज स्टेना इंपेरो के मालिकों ने कहा कि वे अब्बास बंदरगाह पर अपने जहाज के 23 क्रू सदस्यों से संपर्क करना चाहते हैं.

%d bloggers like this: