विलासपुर के कलक्टर डाॅ. संजय अलंग का हो रहे है जमकर प्रशंसा

Spread the love

विलासपुर के कलेक्टर डॉ संजय अलंग जब केंद्रीय जेल में निरीक्षण के लिए पहुँचे तो देखा कि एक 6 साल की बच्ची अपने पिता से लिपट कर रो रही थी। पूछने पर पता चला कि एक अपराध में सजायाफता क़ैदी है, ये उसकी बेटी है और जेल में रहना है। ये बच्ची जब 15 दिन की थी, तभी उसकी माँ की मृत्यु हो गई थी। पालन पोषण के लिए घर में कोई नहीं था। इसलिए उसे जेल में ही पिता के पास रहना पड़ रहा है। कलेक्टर साहब बच्ची को अपनी कार में बैठाकर जेल से स्कूल तक खुद छोड़ने गए।

शहर के जैन इंटरनेशनल स्कूल ने इसे एडमिशन दिया। वह स्कूल के हॉस्टल में ही रहेगी। इसके लिए विशेष केयरटेकर का भी इंतज़ाम किया गया है। सारा खर्चा खुद कलेक्टर साहब उठाएँगे।

Manoj Kumar(TET Teacher)@TETManojkumar कलेक्टर साहब ने मानवता का परिचय देकर एक बच्ची का उद्धार करने का प्रयास किया है। मेरा व्यक्तिगत तौर पर यह मानना है कि हमें उन कारणों को दूर करना होगा जो लोगों को अपराध करने को प्रेरित करते हैं, शायद ही कोई व्यक्ति जन्मजात अपराधी होता है।

भारतीय@Haritwal9Tarun भारत देश के हर जिले में अगर ऐसा कलेक्टर हो हमारे भारत को महान बनने से कोई नहीं रोक सकता परोपकार ओर दया भारत की संस्कृति है ।

truth seeker@sartoriusPlay·बहुत सही जवाब. सभी दूसरों से ही ऐसे महान काम की आश करते है.ख़ुद ऐसी ज़िम्मेदारी कोई नहीं लेना चाहता.चलो अगर इकला व्यक्ति न समझे समझ में आता है क्योंकि अकेले व्यक्ति के पास DM जैसी ताक़त व प्रभाव नहीं होता मगर समाज अपने कर्तव्यों का पालन करने से क्यों आँख चुराता है ये समझ से बाहर


अर्चना भरतीय@YashTya51486317
·Replying to @RaviRanjanInअभिनंदन योग्य हैं ऐसे व्यक्ति और लोगों के लिए एक शिक्षाप्रद भी सादर नमन है ।ऐसे लोगों को जो ऊंचाई पर होने के बावजूद भी लोगों के दुख और उनकी तकलीफ को समझ कर उसका निवारण करने की कोशिश करते हैं।

Rahul Lodhi@iamrahullodhi·Replying to @RaviRanjanInबहुत अच्छा काम किया. लेकिन हर बार कोई कलेक्टर थोडी आएगा और क्या ये बच्ची आखिरी थी? अब कोई बच्चे ऐसी अवस्था में नहीं होगे? System बनाएँ जो ऐसे सारे cases को सम्भाला सके। धन्यवाद


ashish sharma@AshishsharmaAd
·Replying to @RaviRanjanInबहुत अच्छे कलेक्टर साहब आप जैसा कलेक्टर हर जिले में होना चाहिए जो एक मिसाल पेश करें लोगों की जन सेवा करें लेकिन आप जैसे लोग बहुत कम मिलते हैं वह तो नेताओं की चाटुकारिता में ही लगे रहते हैं आई सैल्यूट यू आप पर मुझे गर्व है

%d bloggers like this: