यूपी पुलिस की बड़ी जिम्मेदारी- कोरोना से बचाना है, चुनाव भी कराना है

Spread the love

पंचायत चुनाव और कोरोना वायरस का तेजी से फैलते संक्रमण के बीच यूपी पुलिस की जिम्मेदारी बढ़ गई है. ऐसे में पुलिस ने नयी स्ट्रैटजी बनाई है- कोरोना से बचाना है, चुनाव भी कराना है.

यूपी पंचायत चुनाव 2021 के लिए मतदान की घड़ी नजदीक आ गई है. कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच चार चरणों में होनेवाले इस चुनाव को लेकर यूपी पुलिस की जिम्‍मेदारी और ज्यादा बढ़ गई है. एक ओर लोगों को कोरोना महामारी से बचाना है तो वहीं पंचायत चुनाव भी कराना है. अब इसी मूलमंत्र के साथ आज पुलिस पार्टियां त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव कराने के लिए निकलेंगी.

कोरोना गाइडलाइन के साथ ही चुनाव आचार संहिता का पाठ पढ़ाएंगे पुलिसकर्मी

पंचायत चुनाव के दौरान राज्य में पुलिस के जवान, पीएसी के जवान, सीआरपीएफ और होमगार्ड के जवान उच्चाधिकारियों की ओर से दिए गए निर्देश के साथ खुद को भी कोरोना के संक्रमण से बचाने की कोशिश करेंगे तो वहीं पोलिंग बूथ पर सुरक्षा के साथ ही उनकी जिम्मेदारी यह भी रहेगी कि कोविड की गाइडलाइन और चुनाव आचार संहिता दोनों का बेहतर तरीके से पालन हो.

पुलिस के अधिकारियों का मानना है कि ग्रामीण क्षेत्र में महामारी को लेकर लोगों को जितनी जागरूकता होनी चाहिए, उतनी नहीं है. तो ऐसे में पंचायत चुनाव के बीच संक्रमण को फैलने से रोकने पर भी लगातार जोर रहेगा और ऐसे में पुलिस की जिम्मेदारी बढ़ गई है.

पुलिसकर्मियों को दिये गये हैं सख्‍त निर्देश

मंगलवार की शाम पुलिस लाइन सभागार में एसएसपी सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी और एसपी क्राइम आशुतोष मिश्रा ने ड्यूटी पर लगाए गए पुलिसकर्मियों को दिशा निर्देश दिए. इसमें पुलिसकर्मियों को कहा गया है कि सभी जवान फेस मास्क खुद लगाए रहें और न लगाने वालों को मास्क पहनने के लिए कहें. इसके साथ ही गांव में बाहरी लोगों को प्रवेश न करने दें और पोलिंग बूथ से सौ मीटर दूर तक लगे पोस्टर, बैनर व होर्डिंग को हटवा दिया जाए. कहा गया है कि बूथ के भीतर केवल मतदाता ही जा सकेंगे.

चुनाव के लिए तैयार हैं पुलिसकर्मी

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को फ्री एंड फेयर कराने के लिए पुलिस ने पुख्ता इंतजाम किया है. पुलिसकर्मी कोरोना से बचाव संग चुनाव के आदर्श आचार संहिता का पालन कराएंगे. साथ ही चुनाव को प्रभावित करने या माहौल बिगाडऩे वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेंगे. पंचायत चुनाव को लेकर पुलिस के साथ ही पीएसी, सीआरपीएफ और होमगार्डों की भी तैनाती की गई है.

%d bloggers like this: