भारत में 31 जुलाई तक बढ़ा अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर लगा प्रतिबंध

Spread the love

इससे पहले आदेश में कहा गया था कि 15 जुलाई तक भारत में इंटरनेशनल फ्लाइट्स की आवाजाही को इजाजत नहीं होगी.


देश में लगातार बढ़ते कोरोना (Coronavirus) संक्रमण के मामलों के चलते सरकार ने अंतरराष्ट्रीय (International Flights) उड़ानों पर लगे प्रतिबंध को 31 जुलाई तक बढ़ाने का फैसला लिया है. इससे पहले आदेश में कहा गया था कि 15 जुलाई तक भारत में इंटरनेशनल फ्लाइट्स की आवाजाही को इजाजत नहीं होगी. नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने बीते शुक्रवार को कहा कि वह देश में अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानों का निलंबन (रद्द) 15 जुलाई तक बढ़ा रहा है लेकिन चुनिंदा मार्गों पर कुछ अंतरराष्ट्रीय सेवाओं की अनुमति स्थिति के आधार पर दी जा सकती है.


सरकार ने आज (3 जुलाई को) एक सर्कुलर जारी कर कहा है कि 26 जून के आदेश में बदलाव दिया जा रहा है. अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर 15 जुलाई तक लगे प्रतिबंध को बढ़ाकर 31 जुलाई तक करने का फैसला लिया गया है. भारत से अंतरराष्ट्रीय व्यावसायिक यात्री सेवाओं की आवाजाही 31 जुलाई, 2020 को रात 11.59 बजे तक निलंबित रहेगी.


सर्कुलर में आगे कहा गया है कि ये प्रतिबंध अंतरराष्ट्रीय कार्गो ऑपरेशन्स और DGCA द्वारा अनुमति प्राप्त उड़ानों पर लागू नहीं होंगे.

गौरतलब है कि कोरोना वायरस की वजह से भारत में इंटरनेशनल फ्लाइट्स 31 मार्च के बाद से ही बंद हैं.

इसमें कहा गया है, ‘हालांकि, स्थितियों के आधार पर चुनिंदा मार्गों पर अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानों की अनुमति दी जा सकती है.’

%d bloggers like this: