बाह रे तेरी खुदाई तुने काहे को दुनिया बनाई। छुप-छुप तमाशा देखे वाह रे तेरी—–

Spread the love

देश भर मे कोरोना वायरस के संक्रमण लगातार बढते चले जा रहे है। सरकार और प्रशासन भी धीरे-धीरे लाचार बनती जा रही है। इसी बीच विपक्ष बुद्धिहीन बाते करके अपना लाँक डाउन का समय काट रहे है। मेडिकल टीम को पूरी सुरक्षा मिले यह सरकार की जिम्मेदार है और विपक्ष का सवाल जायज है लेकिन सिर्फ इसी मुद्दे पर क्यों ? मेडिकल स्टाफ और पुलिस के साथ हो रहे दुर्व्यवहार और हमला को लेकर आखिर जुबान पर ताला क्यों लगा लेती है विपक्ष। इसलिए कि वो एक विशेष समुदाय के लोग है।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाडरा ने बांदा जिला कें मेडिकल स्टाफ की समस्या को लेकर योगी सरकार पर हमला बोला था और मेडिकल स्टाफ को इस समय के भगवान बतायी थी। मेडिकल स्टाफ ने सरकार और बांदा मेडिकल के तरफ से सुरक्षा किट की कमी की शिकायत की थी। मेडिकल काॅलेज के स्टाफ ने सैलरी को लेकर भी चिंता जतायी थी। जिसकों टवीट करके प्रियंका वाडरा ने योगी सरकार को घेरा था।

https://t.co/er9dzjSrVB?amp=1

यह बड़ी अच्छी बात है कि विपक्ष हमेशा तत्पर रहे है और सरकार से सवाल पूछे। लेकिन ये क्या गाजियाबाद मे होने वाले बदतमीजी पर कांग्रेस महासचिव चुप है ? इंदौर मे मेडिकल स्टाफ पर हुए हमले पर खामोशी क्यों ? दिल्ली के तब्लीगी मामले मे सारे विपक्ष को सांप क्यो सुंघ गया है ? युपी के मुजफ्फरनगर में पुलिस टीम पर हमला के बाद कोई ब्यान क्यों नही दिया गया है? बिहार के मुंगेर मेडिकल स्टाफ के साथ मारपीट पर खामोशी किसलिए ?

क्या यह खामोशी इसलिए है कि यह सभी हमला करने वाले एक ही मजहब के लोग है ? गल्बस नही मिलने पर आपको इतना दुख है प्रियंका जी , ये तो बात सही भी है, लेकिन जब आप गाजियाबाद मे एक महिला डाक्टर के साथ छेड़छाड़ और बदतमीजी पर चुप रहती है तो आपके सवाल पर भी सवाल उठना लाजमी है।

इंदौर मे मेडिकल स्टाप को दौड़ा-दौड़ाकर मारा गया, किसी प्रकार से एक महिला डाक्टर वहाँ से जान बचाकर भागी थी, आप उस महिला डाक्टर के लिए इतना निर्दय क्यों हो जाती है। जरा उस महिला डाक्टर और पुलिस के जवान से भी हाल चाल पुछ लेती तो ठिक ही होता । आपका ऐहसान होता , लेकिन आप तो आपदा के घड़ी मे भी वोट बैेक विशेष की बाते करती है। समुदाय विशेष के ध्यान रखती है। वोट बैक नाराज न हो जाय इस पर आपका पूरा ध्यान है। लेकिन आप 80 प्रतिशत को नाराज करके क्या हासिल करना चाहती।

यु पी के जिला मुजफ्फरनगर मे पुलिस टीम पर लाठी डंडे से हमला किया गया। उनका इतना कसूर था कि नमाजी को सोशन डिस्टेंस का पाठ पढ़ाने गया था। लेकिन ये क्या हुआ ? य पुलिस के जवान की माथे पर चोट कैसे लगी? क्या समझाना ही गुनाह बन गया और उसकी सजा पुलिस को इस तरह से भूगतनी पड़ी।

बिहार के मुंगेर जिले मे आशा वर्कर के साथ मेडिकल टीम स्क्रीनिंग के लिए गयी थी। देखते ही देखते भीड़ ने उसके साथ बदतमीजी करने लगा। मेडिकल टीम क्या करता जान बचाकर भागना पड़ा। जिसकी स्क्रीनिंग होनी थी वो सभी तबलीगी से तालुक रखने वाले लोग है। दे

देश के सबसे बड़ी पार्टी कांग्रेस को ये सब तो दिखाई नही दिया लेकिन बांदा जिले के मेडिकल स्टाफ के मामला सबसे अहम लगा। देखते देखते काग्रेस के महासचिव ने योगी सरकार को घेर लिया । लेकिन देश के इतना बड़ा मामला जो देश को पुन: कोरोना के आग मे झोंक दिया है खामोश है ।

बाह रे तेरी खुदाई तुने काहे को दुनिया बनाई। छुप-छुप तमाशा देखे वाह रे तेरी

https://www.youtube.com/watch?v=3hLN2FdT_sY&t=10s

<blockquote class=”twitter-tweet”><p lang=”hi” dir=”ltr”>प्रियंका गाँधी ने योगी सरकार पर साधा निशाना <a href=”https://twitter.com/hashtag/COVID19?src=hash&ref_src=twsrc%5Etfw”>#COVID19</a> <a href=”https://twitter.com/hashtag/Coronavirus?src=hash&ref_src=twsrc%5Etfw”>#Coronavirus</a><a href=”https://t.co/er9dzjSrVB”>https://t.co/er9dzjSrVB</a></p>— aajtak (@aajtak) <a href=”https://twitter.com/aajtak/status/1246345020891783168?ref_src=twsrc%5Etfw”>April 4, 2020</a></blockquote> <script async src=”https://platform.twitter.com/widgets.js” charset=”utf-8″></script>

%d bloggers like this: