Wood Ward स्कूल की मनमानी और फ्राड रवैये के खिलाफ भदोही के समाज सेवी संजय कुमार सिंह ने जिला प्रशासन से लगाई जाँच की गुहार

Spread the love

Wood Ward स्कूल की मनमानी और फ्राड रवैये के खिलाफ भदोही के समाज सेवी संजय कुमार सिंह ने जिला प्रशासन से लगाई जाँच की गुहार , सरकार और जिला अधिकारी विद्यालय पर करे कठोर कार्यवाई

बतादें की स्कूल और कॉलेज को आज के समाज मे पूजा मंदिर की उपाधि और पूजा घर जैसी मान्यता दी गई है मगर क्या आप जानते हैं कि शिक्षा मंदिर और समाज जगत को कौन और कैसे कलंकित कर रहा है ??

तो हम बताते हैं आपको उत्तर प्रदेश की औधोगिक कालीन नगरी भदोही में स्थित Wood Ward स्कूल है जो धड़क्के से खुलेआम डोनेशन और फीस के नाम पर पालकों का शोषण कर रहा है साथ मे उक्त विद्यालय में मेघावी छात्र/छात्राओं के भविष्य से भी खिलवाड़ किया जा रहा है

बतादें की वर्ष 2020 की 10 वीं की CBSC बोर्ड परीक्षा में भदोही शहर की छात्रा साक्षी सिंह ने जनपद में सबसे ज्यादा 483/500 अंक प्राप्त होने पर भी उसी विद्यालय की छात्रा फातिमा अंसारी जिसने 481/500 नम्बर प्राप्त किया उसे Wood Ward स्कूल ने कुछ दलाल पत्रकारों की मदत से जालसाजी करके फातिमा अंसारी और अनुराग श्रीवास्तव को जनपद के टॉपर्स घोषित कर दिया जिसके चलते भदोही के समाजसेवी संजय सिंह ने जिला प्रशाशन से लेकर प्रदेश के मुखिया से जाँच कराने की माँग की है की उनकी पुत्री साक्षी सिंह को जनपद मे जिलाधिकारी द्वारा ससम्मान वापस लौटाया जाय जिसकी साक्षी सिंह वास्तव में हकदार है ।


अब देखना ये है कि क्या योगी सरकार और भदोही जिला प्रसाशन जाँच करके स्कूल पर कड़ी कार्यवाई करके साक्षी सिंह को न्याय और सम्मान दिलाता है या फिर खाना पूर्ति करके विद्यालय को निर्दोष साबित करता है ।

महेंद्र मणि पाण्डेय ( मुम्बई )

%d bloggers like this: