एक चक्रवाती परिसंचरण उत्तरी छत्तीसगढ़ और इसके आस-पास के क्षेत्र पर बना है

Spread the love

एक चक्रवाती परिसंचरण उत्तरी छत्तीसगढ़ और इसके आस-पास के क्षेत्र पर बना है और औसत समुद्र तल से 1.5 किलोमीटर ऊपर तक स्थित है

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र के अनुसार:

(शुक्रवार 04 जून 2021, जारी करने का समय: 0800 बजे भारतीय समयानुसार, भारतीय समयानुसार 0530 बजे की टिप्पणियों पर आधारित निष्कर्ष)

अखिल भारतीय मौसम अनुमान (सुबह)

  • मानसून की उत्तरी सीमा (एनएलएम) अक्षांश 10°उत्तर/देशांतर 60° पूर्व, अक्षांश 10° उत्तर/देशांतर 70° पूर्व, कोच्चि, पलायमकोट्टई,  अक्षांश 90°उत्तर/देशांतर 80° पूर्व, अक्षांश 12°उत्तर/देशांतर 85°पूर्व, अक्षांश 14°उत्तर/देशांतर 90°पूर्व  और अक्षांश 17°उत्तर/देशांतर 94° पूर्व से लगातार गुजर रही है।
  • दक्षिण-पश्चिम मानसून के अगले 24 घंटों में दक्षिण अरब सागर के बाकी हिस्सों, मध्य अरब सागर के कुछ हिस्सों, केरल व लक्षद्वीप के बाकी हिस्सों, तमिलनाडु व पुडुचेरी के कुछ व हिस्सों, तटीय व दक्षिण भीतरी कर्नाटक के कुछ हिस्सों, रायलसीमा व दक्षिण और मध्य बंगाल की खाड़ी के कुछ हिस्सों में आगे बढ़ने की संभावना है।
  • पश्चिमी विक्षोभ मध्य और ऊपरी क्षोभमंडल में एक कम दबाव के क्षेत्र के रूप में समुद्र तल से 7.6 किलोमीटर ऊपर अपनी धुरी के साथ अब अक्षांश 28°उत्तर के उत्तर में लगभग देशांतर 74°पूर्व के साथ चल रहा है।
  • एक चक्रवाती परिसंचरण मध्य पाकिस्तान और इसके आस-पास के क्षेत्र पर बना है और औसत समुद्र तल से 1.5 किलोमीटर ऊपर तक स्थित है।
  • एक चक्रवाती परिसंचरण उत्तरी छत्तीसगढ़ और इसके आस-पास के क्षेत्र पर बना है और औसत समुद्र तल से 1.5 किलोमीटर ऊपर तक स्थित है।
  • एक चक्रवाती परिसंचरण कर्नाटक तट से दूर पूर्व-मध्य अरब सागर पर बना है और औसत समुद्र तल से 3.1 किलोमीटर ऊंचाई तक स्थित है।
  • कर्नाटक केरल के तटों से दूर समुद्र तल पर एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है।
  • एक चक्रवाती परिसंचरण तंत्र भूमध्यरेखीय हिंद महासागर और दक्षिणी बंगाल की खाड़ी के आस-पास के मध्य हिस्सों पर बना है और औसत समुद्र तल से 3.1 किलोमीटर से 4.5 किलोमीटर ऊंचाई तक स्थित है।
  • समुद्र तल से 3.1 किलोमीटर ऊपर अक्षांश 8°उत्तरी के साथ अत्यंत दक्षिणी प्रायद्वीप में दक्षिण-पश्चिम अरब सागर से दक्षिण-पूर्व बंगाल की खाड़ी तक पूर्वी पश्चिम एक कर्तन क्षेत्र (शियर जोन) बना हुआ है।
  • तेलंगाना से दक्षिण तमिलनाडु तक उत्तर-दक्षिण कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है और औसत समुद्र तल से 1.5 किलोमीटर ऊपर तक फैला हुआ है।

अधिक जानकारी के लिए कृपया www.imd.gov.in देखें या संपर्क करें : +91 11 24631913, 24643965, 24629798 (1875 से राष्ट्र की सेवा में)

%d bloggers like this: