नोएडा सेक्टर 15 एनआरडब्लूए चुनाव को लेकर डीएम और डिप्टी रजिस्ट्रार को लिखा पत्र

नोएडा सेक्टर 15 एन आऱ डब्लू ए चुनाव को लेकर निवासियों ने जिलाधिकारी और सब रजिस्ट्रार…

ग्राम पाठशाला की शुरुआत, युवा और समाज के सपने को साकार करने जैसा

ग्राम पाठशाला के नाम सुनते ही बचपन के यादे ताजा होने लगते है। यह वो याद…

पाकिस्तान के बारे में नेपाल के लोग क्या सोचते हैं?

नेपाल ; 29 साल के संघर्ष दाहाल नेपाल में मधेस इलाक़े के महोत्तरी ज़िले के हैं.…

इन राज्यों में फरवरी से खुल रहे हैं स्कूल, छात्राओं को मिलेंगे 2800 रुपये

फरवरी में कई राज्यों में स्कूल और कॉलेज फिर से खुल रहे हैं. पिछले 11 महीने…

न्यूनतम समर्थन मूल्य योजना के माध्यम से लघु वन उपज के विपणन के लिए तंत्र के तहत 14 नए लघु वन उत्पादों को शामिल किया गया

पिछले एक वर्ष से जारी कोविड महामारी की वजह से उत्पन्न अभूतपूर्व संकट के कारण, सभी क्षेत्रों में लोगों के जीवन और आजीविका बुरी तरह से प्रभावित हुई है। इस संकट का प्रभाव विशेष रूप से, देश भर में वंचित आदिवासियों पर सबसे अधिक पड़ा है। ऐसे समय में, न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) के माध्यम से लघु वन उपज (एमएफपी) के विपणन के लिए तंत्र और एमएफपी के लिए मूल्य श्रृंखला का विकास, बदलाव के रूप में सामने आया है। देश के 21 राज्यों में राज्य सरकार की एजेंसियों के सहयोग से भारतीय जनजातीय सहकारी विपणन विकास परिसंघ-टीआरआईएफईडी द्वारा संकल्पित और कार्यान्वित, यह योजना अप्रैल 2020 से आदिवासी अर्थव्यवस्था में सीधे तौर पर 3000 करोड़ रुपये से अधिक की राशि जमा करने वाले आदिवासी संग्रहकर्ताओं के लिए बड़ी राहत का स्रोत बनकर उभरी है। यह मुख्य रूप से सरकार के समर्थन और राज्य सरकारों की सक्रिय भागीदारी के कारण संभव हो सका है। आदिवासी पारिस्थितिकी तंत्र में सरकार द्वारा अत्यंत आवश्यक नकदी प्रदान की गई है, जो प्रतिकूल समय में बहुत जरूरी है। वन उपज के आदिवासी संग्रहकर्ताओं को पारिश्रमिक और उचित मूल्य प्रदान करने के अपने पहले से जारी प्रयासों के साथ, जनजातीय कार्य मंत्रालय ने लघु वन उपज की सूची के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य को संशोधित किया है और 14 अतिरिक्त लघु वन उत्पादों को सूची में शामिल किया है। अतिरिक्त मदों की यह सिफारिश 26 मई, 2020 को जारी की गई पिछली अधिसूचना से अलग और बढ़कर है (जिसमें 23 लघु वन उत्पादों को शामिल करने के लिए सूची को संशोधित किया गया था) और 1 मई, 2020 की अधिसूचना में लघु वन उत्पादों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य में संशोधन की घोषणा की गई थी। शामिल की गई नई वस्तुओं का विवरण उनके न्यूनतम समर्थन मूल्य-एमएसपी के साथ निम्नानुसार है: – क्रम संख्या लघु वन उत्पाद (एमएफपी) श्रेणीएफ: वनए; कृषिएम: औषधीयपी: प्रसंस्कृतएस: मसाला न्यूनतम समर्थन मूल्य-एमएसपीप्रस्तावित (रुपये प्रति किलोग्राम) लघु वन उत्पाद वस्तु के रूप में व्यावहारिकता I टसर कोकून एन/एच   झारखंड…

1 फरवरी से शुरू हो रही है Mumbai Local Trains, जानिए क्या होंगी शर्तें, क्या होगा शेड्यूल

1 फरवरी से मुंबई में फिर से शुरू होगी लाइफलाइन Mumbai Local Trains, इसमें यात्रा करने…

फर्जी: खबर में दावा किया जा रहा है कि अब किसान क्रेडिट कार्ड लोन 7% की जगह 12% ब्याज दर पर मिलेगा।

सोशल मिडिया एक तरफ जहाँ संचार माध्यम में क्रांति ला दिया है वही दूसरी तरफ इस…

फर्जी खबर:आरबीआई द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार मार्च 2021 के बाद 5, 10 और 100 रुपए के पुराने नोट नहीं चलेंगे।

सोशल मिडिया पर तेजी से तैरते इस खबर की सच्चाई जानने की कोशिश की तो यह…

फर्जी: केंद्र सरकार बेरोजगारों को प्रति माह ₹3800 तक का बेरोजगारी भत्ता देने वाली खबर निकला फर्जी।

आजकल देश तथा दुनिया मे लगातार अफवाहों का दौर जारी है। खासकर सोशल मिडिया पर फर्जी…

60 लाख रूपये की रंगदारी मांगने वाले 05 अभियुक्त गिरफ्तार

नोएडा थाना सेक्टर 49 पुलिस ने 60 लाख की रंगदारी मांगने वाले गिरोह का किया पर्दाफाश…

%d bloggers like this: