वजन धटाने की 10 आसन तरीका और उपचार

    0
    25

    वजन बढ़ना कोई आम समस्‍या नहीं है। मोटापा कई जानलेवा बीमारियों का कारण बन सकते हैं। बदलती लाइफस्‍टाइल की वजह से अधिकांश लोग मोटापे का शिकार हो रहे हैं, जिससे लोग अन्‍य दूसरी बीमारियों की चपेट में आ रहे हैं। समय रहते अगर बढ़ते वजन पर कंट्रोल करना जरूरी है। आज हम आपको 10 ऐसे आसान, सस्‍ते घरेलू उपायों के बारे में बता रहे हैं, जिसके माध्‍यम से आप अपने वजन को काफी हद तक कम कर सकते हैं। इसे करने के लिए आपको ज्‍यादा कुछ करने की जरूरत नहीं है।

    1- एक ग्लास थोड़ा गरम पानी ले कर उसमे एक चम्मच काली मिर्च पाउडर, और चार चम्मच नींबू पानी, तथा एक चम्मच शहद मिला कर नित्य हर रोज सुबह पीने से वजन कम होता है, और अगर खाली पेट सुबह में गरम पानी में नींबू निचोड़ कर उसमे एक चम्मच शहद मिला कर रोज पिये तो भी वजन कम होता है।

    2- गोभी के पत्ते वजन कम करने के लिए काफी फायदेमंद होते है। कच्चे सैलड में गोभी के पत्ते उबाल कर, या फिर कच्चे खाने से वजन कम होता है।

    3- भोजन के पहले टमाटर का सूप पीने से या टमाटर कच्चे खाने से भी वजन कम होता होता है।

    4- हर प्रकार की हरी पत्ती वाली सब्जी का आहार करें। यह सारे आयुर्वेदिक उपाय होने के कारण इनके साइड इफफ़ेक्ट्स नहीं होते हैं।

    5- सुबह का नाश्ता मध्यम मात्रा में लेना चाहिए। दोपहर का खाना भर पेट खाना चाहिए। क्योंकि दोपहर के समय पाचन तंत्र सबसे ज्यादा सक्रिय होता है।

    6- रात का खाना सोने से 3-4 घंटे पहले लेना चाहिए। रात का समय सोने के लिए होता है, इसलिए पाचन तंत्र को भोजन पचाने के लिए अधिक श्रम करना पड़ता है। रात का खाना कम कैलोरी वाला होना चाहिए।

    7- खाना हमेशा देर तक चबा कर ही खाना चाहिए। इससे शरीर का वजन नियंत्रित रहता है।

    8- खाना हो सके तो थोड़ा गरम कर के ही खाएं। गरम खाना ठंडे खाने के मुक़ाबले ज़्यादा जल्दी पचता है।

    9- दिनभर में थोड़ा-थोड़ा करके पानी पीते रहना चाहिए ताकी खाना पचता रहे। भोजन को पचाने के लिए पानी की आवश्यकता होती है। हालांकि, एक्सपर्ट खाने के समय पानी ना पीने की सलाह देते हैं, इसलिए खाते समय पानी पीने से बचना चाहिए।

    10- बासी या एक दिन पहले का बचा हुआ खाना खाने से परहेज करें, इसके अलावा प्रोसेस्ड फूड का सेवन करने से बचें। इनसे वजन बढ़ता है।

    अच्छी बॉडी के लिए आपको यह पता होना जरूरी है कि क्या खाना है, नीचे दिए गए आहार को अपनाकर आप अच्छी बॉडी बना सकते है|

    अंडा

    बॉडी बिल्डिंग के लिये अंडे से अच्छा कुछ नहीं हो सकता |प्रत्येक अंडे में प्रति 6 से 8 ग्राम प्रोटीन सामग्री होती है और 0 प्रतिशत वसा होती है।।अंडे को हमेशा उबाल कर ही खाना चाहिये।मसल्‍स बनाने के लिये आपको एक दिन में 5-6 अंडे तक खाने की जरुरत है।अंडे में पाया जाने वाला प्रोटीन मसल्स बनाने में मदद करता है |प्रोटीन के साथ-साथ कैल्शियम , आयरन और जिंक भी अंडे में पाया जाता है |

    मछली

    मछली वास्तव में मांसपेशियों के निर्माण करने में और वसा को कम करने में मदद करती है |आपकी मासपेशियों को बढने के लिये मोनो सैचुरेटेड फैट की आवशयकता होती है। वर्कआउट करते समय शरीर का सारा फैट बर्न हो जाता है तो ऐसे में शरीर में जमा मोनो सैचुरेटेड फैट ही शरीर में एनर्जी बढाता है।

    ओट्स

    ओट्स कार्बोहाइड्रेट, फाइबर, प्रोटीन, खनिज और विटामिन का सही मिश्रण है और शरीर के लिए बहुत ही स्वस्थ होते है |।शरीर में अपचय की प्रक्रिया बढाने के लिये ओट्स खाइये। इसको खाने से शरीर में फैट नहीं जमता और मसल्स बढ़ाने में भी सहायता करते है |

    बादाम

    बॉडी बिल्डिंग के लिये बादाम बहुत अच्छा स्‍नैक्‍स माने जाते हैं। इसमें बहुत सारा अमीनो एसिड होता है जो कि मसल्‍स बनाने में उपयोगी होते हैं।

    पनीर

    पनीर में अधिक मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है |इसमें बिल्‍कुल भी फैट नहीं होता है इसलिये यह बॉडी बिल्डिंग के लिये अच्छा होता है। चीज में प्रोटीन, कैल्शियम और विटामिन बी 12 होता है जो हमारी कमजोर हडि्डयों को स्ट्रॉन्ग बनाने में मददगार साबित होता है।इसमें दूध से निकाला गया प्रोटीन होता है। इसीलिये बॉडी बिल्डिंग बनाने वाले चीज का प्रयोग खूब करते हैं।

    ब्रॉकली

    लोहा, प्रोटीन, कैल्‍शियम, कार्बोहाइड्रेट, क्रोमियम, विटामिन ए और सी पाया जाता है जो शरीर के लिए लाभदायक होता है |इसमें विटामिन सी होता है जो कि शरीर में सेल्‍स को तुरंत खराब नहीं होने देती और शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढाती है।

    केला

    केले में थाइमिन, नियासिन और फॉलिक एसिड के रूप में विटामिन ए और बी पर्याप्त मात्रा में मौजूद होता है। केले को ऊर्जा का अच्छा स्रोत माना जाता है। साथ ही इसमें पानी की मात्रा 64.3 प्रतिशत, प्रोटीन 1.3 प्रतिशत, कार्बोहाईड्रेट 24.7 प्रतिशत तथा चिकनाई 8.3 प्रतिशत होती है।

    ग्रीन टी

    इसकी सबसे अच्छी बात यह है कि यह शरीर में अच्छे बैक्टीरिया को जन्म देती है जिससे बॉडी बिल्डर्स का इम्मयून सिस्टम मजबूत होता है और बीमारियां दूर होती हैं।

    अत्यधिक वजन का बढ़ना जिसे मोटापा नाम दिया जाता है कई स्वास्थ्य समस्याओं और बीमारियों को निमंत्रण देता है जैसे डायबिटीज (टाइप -2), हाइ ब्लड प्रैशर, दिल की बीमारियां और स्ट्रोक, अनिंद्रा की बीमारी, किडनी की बीमारी, फैटी लिवर– लिवर में फेट जमा होने से लीवर खराब होने की बीमारी, ऑस्टियोआर्थराइटिस – जोड़ो की बीमारी, आदि। इसलिए आपको मोटापा कम करने के उपाय को जानना बहुत जरुरी हो जाता है।

    मोटापा ना केवल बहुत सारी स्वास्थ्य समस्याओं को अपने साथ लेकर आता है बल्कि गंभीर रुप से व्यक्ति के आत्म सम्मान पर भी ठेस पहुंचाता है क्योंकि अक्सर दूसरों के सामने उनका मजाक उड़ाते देखा जा सकता है मोटापे को नियंत्रित करने का सबसे अच्छा तरीका एक स्वस्थ जीवन शैली को अपनाना है जिसमें वजन को बढ़ने से रोकना सबसे मुख्य भाग होता है।

    यदि आप अपने वजन को बढ़ने से रोक सकते हैं तो आप मोटापे से ग्रस्त होन से बच सकते हैं वैसे तो मार्केट में मोटापा कम करने के लिए कई तरह की सर्जरी और दवाइयां मौजूद है लेकिन इनके बहुत अधिक साइड इफेक्ट हैं इस से अच्छा है कि आप मोटापा कम करने के लिए आयुर्वेदिक उपाय को अपनाए आयुर्वेदिक तरीके से वजन को कम करना केवल प्रभावी भी नहीं होता यह 100% प्राकृतिक भी होता है जिससे आपको किसी भी प्रकार के साइड इफेक्ट देखने को नहीं मिलते।

    अगर आप नीचे दी गई बातों को ध्यान में रखकर उचित दिनचर्या अपनाते हैं तो आप जरुर ही अपना मोटापा कम करने में सफल होंगे अक्सर लोगों के मन मैं यह सवाल रहता है कि मोटापा कम कैसे करें और मोटापा को कम करने के उपाय कौन-कौन से हैं आज हम आपको इस लेख के द्वारा यह बताने वाले हैं की मोटापे को आप बड़ी आसानी से कम कर सकते हैं। आइए जानते हैं मोटापा कम करने के उपाय के बारे में