छोटे छोटे आविषकार में बड़े इज़िनियरो से सुधार करके ही इतिहास बनता है

Spread the love

ऐसे छोटे छोटे आविषकार में बड़े इज़िनियरो से सुधार करके ही इतिहास बनता है लेकिन मेरे देश में एक बार अख़बार या न्यूज़ में आकर बाद में गुम हो जाते है ऐसे काम ये दुर्भाग्य है इस देश का बढ़ी कम्पनी इनको बुलाती नही और सरकार कभी ध्यान देती नही ना कोई मंत्रालय

%d bloggers like this: