आरक्षण लिस्ट जारी होते ही हार गए कई ग्राम प्रधान दावेदार

Spread the love

यूपी के त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव पर जारी नये आरक्षण में ग्राम प्रधान पद के लिये ज्यादा बदलाव नहीं है।कुछ सीटों के आरक्षण में बदलाव किया गया है। जिसकी वजह से दावेदार मायूस हो गये हैं और उनकी मेहनत नाकामयाब गयी, तो कइयों दावेदार फूल की तरह खिलेंगे।

शनिवार की देररात को जिला प्रशासन ने त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिये आरक्षण जारी कर दिया गया है। जिसमें ग्राम प्रधान पद, बीडीसी सदस्य, ग्राम पंचायत सदस्य, जिला पंचायत सदस्य, ब्लाक प्रमुख चुनाव का आरक्षण आया है। जिसमें सामान्य सीटें फिर ज्यादा रखी हैं। 372 सीटें सामान्य के लिये के लिये छोड़ दी हैं। वहीं महिलाओं के लिये 179 सीटें घोषित की गयी हैं, इसके अलावा इनसे ज्यादा सीटें 185 बीसी के लिये घोषित की गई हैं।

बीसी महिला को 99 और एससी महिला को 73 सीटें रखी हैं। वहीं एससी के लिये 129 सीटें हैं। इस तरह से चुनाव के आरक्षण में बदलाव तो किया है लेकिन ज्यादा बदलाव नहीं हैं। जिसकी वजह से ज्यादा दावेदारों का चुनाव प्रभावित नहीं होगा। जिला पंचायत राज अधिकारी ने देररात को ही विकास भवन में सूची चस्पा करा दी है। रविवार की सुबह को ब्लाकों पर भी सूची चस्पा हो जायेगी। जिसमें दावेदार अपना आरक्षण देख सकते हैं।

बेकार चली गई मेहनत गांव-गांव प्रधानी का चुनाव लड़ रहे तमाम लोगों को झटका लगा है। पंचायत चुनाव को लेकर दूसरा देररात तक जो आरक्षण आया है उसके अनुसार तमाम लोग आरक्षण से बाहर हो गये हैं और अब चुनाव का एक सपना रह गया है। अब तक ऐसे लोगों ने जो मेहनत की थी वह धरी लग गई है और काम में नहीं आई है। पंचायत चुनाव को लेकर चुनावी महौल गर्म हो गया है।

%d bloggers like this: