अब घर बैठे ही परीक्षा दे सकेंगे छात्र, जानिए क्या है आदेश…

Spread the love

मध्य प्रदेश में कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच राज्य शिक्षा विभाग ने कहा है कि छात्रों के पास दो विकल्प हैं. वे अब घर बैठे ही परीक्षा दे सकते हैं, जानिए क्या है शिक्षा विभाग का आदेश…

मध्य प्रदेश में तेजी से बढ़ रहे कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए कक्षा 9वीं-11वीं और 10वीं-12वीं की परीक्षा को लेकर स्कूल शिक्षा विभाग ने जरूरी निर्देश जारी किए हैं. जारी किए गए निर्देश में बताया गया है कि कक्षा 9वीं और 11वीं की वार्षिक परीक्षाएं तथा कक्षा 10वीं और 12वीं की प्री बोर्ड परीक्षाओं के लिए दो विकल्प होंगे. एक विकल्प ऑनलाइन परीक्षा का होगा, जबकि दूसरे विकल्प के तहत छात्र घर से ही पेपर दे सकेंगे.

विभाग ने साफ कर दिया है कि सभी सरकारी स्कूलों में विकल्प दो के अनुसार ही परीक्षाएं ली जाएंगी, इसक मतलब ये है कि इन स्कूलों में पढ़ने वाले छात्र घर से ही परीक्षा दे सकेंगे. शिक्षा विभाग की तरफ से जारी आदेश में कहा गया है कि निजी स्कूल अपने हिसाब से किसी एक विकल्प के तहत परीक्षा आयोजित करा सकते हैं.

स्कूल शिक्षा विभाग की तरफ से जारी किए गए आदेश के अनुसार 10वीं और 12वीं की वार्षिक परीक्षाएं संबंधित बोर्ड, माध्यमिक शिक्षा मंडल, CBSE, ICSE के निर्देश के अनुसार ही आयोजित होगी.

विभाग ने कहा कि स्कूल तय करेंगे कैसे होगी परीक्षा
हाल ही में माध्यमिक शिक्षा मंडल ने 9वीं और 11वीं की परीक्षाओ का शेड्यूलऑफिशियल वेबसाइट पर जारी किया था, जिसके मुताबिक 12 अप्रैल से परीक्षा प्रस्तावित है, लेकिन तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के चलते 9वीं और 11वीं की परीक्षाओं के आयोजित काराने को लेकर संशय बना हुआ था. जिसके बाद अब विभाग ने परीक्षा कराने के लिए स्कूलों को दो विकल्प दिए हैं. अब देखना होगा कि निजी स्कूल किस विकल्प के तहत परीक्षा आयोजित कराएंगे.

कैसे होगी 10वीं और 12वीं की प्री बोर्ड परीक्षा
एमपी बोर्ड ने कुछ दिनों पहले ही 10वीं और 12वीं विद्यार्थियों की प्री-बोर्ड परीक्षा लेने का आदेश जारी किया था. जारी आदेश के अनुसार 12 अप्रैल 2021 से परीक्षा ली जानी थी, जिसकी तैयारियां भी पूरी कर ली गई थीं. इसी बीच प्री बोर्ड परीक्षा के संबंध में हाल ही में मध्य प्रदेश के स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार ने बयान दिया था. उन्होंने कहा था कि कोरोना के बढ़ते ग्राफ के चलते प्री-बोर्ड परीक्षा नहीं ली जाएगी. हालांकि अब विभाग ने आदेश जारी कर परीक्षा कराने को लेकर दो विकल्प निजी स्कूलों को दिए हैं.

आपको बता दें कि मध्य प्रदेश बोर्ड की तरफ से 10वीं के छात्रों की परीक्षाएं 30 अप्रैल से आयोजित की जाएंगी. जबकि 12वीं की परीक्षाएं 1 मई से आयोजित की जाएंगी. बोर्ड द्वारा परीक्षा का टाइम टेबल भी जारी कर दिया गया है. अधिक जानकारी अभ्यर्थी बोर्ड की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर प्राप्त कर सकते हैं.

%d bloggers like this: