वयस्क के मुकावबले शिशु मे हीमोग्लोबिन अधिक क्यों ?

2 weeks ago vatan 0

हीमोग्लोबिन का सामान्य एवं औसत मान
RED BLOOD CALL में लगभग 30µg हीमोग्लोबिन होता है। यह इसके शुष्क भार का 90% होता है।

स्नस्थ पुरूषों में हीमोग्लोबिन की मात्रा 13.5-15.5 ग्राम Pre 100ml तथा स्त्रियों में 12.5 13.5g/100ml होते हैं।

एक Red Blood Cell में हीमोग्लोबिन के लगभग 26.5 करोड़ अणु होती है।

हीमोग्लोबिन गा औसत मान 14.0ग्राम/100मिली. रक्त है।

जन्म के समय शिशु में हीमोग्लोबिन 23ग्राम/100मिली रक्त तक होता है। तीसरे माह तक यह घटकर 10.5ग्राम 100 मिली. रक्त और 1साल की आयु होने पर 12.5ग्राम/ 100मिली./ रक्त हो जाता है।

हीमोग्लोबिन मान सुबह के समय सबसे अधिक तथा शाम को सबसे कम होता है।

हीमोग्लोबिन कोचिकित्सा एवं शरीर में बहुत एहम माना गया है

रक्त में हीमोग्लोबिन की प्रतिशतता सामान्य से कम हो जाने अथवा Red Blood Call के संख्या में घट ने पर अप्रत्यक्ष पूप से हीमोग्लोबिन की कमी हो जाने से रक्ताल्पता या खून की कमी से (Anaemia ) हो जाती है।

रक्ताल्पता के निदीन के लिये (पुष्टि हेतु) हीमोग्लोबिन की जाँच की जाती है।

हीमोग्लोबिन की प्रतिशतता का गिर जाना रक्ताल्पता का प्रमुख चिन्ह है।

जब औरत अगर गर्भावस्था में होती है तब Red Blood Cell की वृध्दि की तुलना में प्लाज्मा की आयतन के बहुत अधिक बढ़ जाता है। इस कारण रक्त हल्का हो जात है इस लिए हीमोग्लोबिन का मान कम हो जाता है।

शिशु में हीमोग्लोबिन अधिक पाया जाता है।

वयसक में हीमोग्लोबिन कम होती है।

Please follow and like us: