रडार के कैमरे ने 10 दिन मे 1348 वाहनों को नियम तोड़ते कैद किया।

रडार के कैमरे ने 10 दिन मे 1348 वाहनों को नियम तोड़ते कैद किया।

  नोएडा: प्रेरणास्थल के पास लगाए गए ऑटोमैटिक ट्रैफिक डिटेक्टर रडारयुक्त कैमरे का ट्रायल सफल होता दिख रहा है । इसने अब तक 1348 वाहनो को ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करते हुए अपने कैमरे मे कैद किया है। हालांकि अभी ट्रायल की वजह से इन वाहनों का चालान नहीं किया गया है। दुबई की तर्ज पर यह देश मे इस्तेमाल होने वाली पहली ऐसी अत्याधुनिक तकनीक है जिसमे नियम तोड़ने वाले वाहनों की न केवल ओवरस्पीड मापी जा सकती है बल्कि उस वाहन की तस्वीर भी कैमरे मे कैद हो जाती है।

एसपी  ट्रैफिक अनिल कुमार झा ने बताया कि इसका ट्रायल सफल हो रहा है। 10 दिनो मे 1348 वाहनो को ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करते हुए पकड़ चुका है। इन चालकों का डाटा ट्रैफिक पुलिस को ऑनलाइन मिल रहा है। एसपी ट्रैफिक अनिल कुमार झा का कहना है कि अगर ट्रायल सफल हो जाता है तो इसके बाद नोएडा के प्रमुख मार्गो एक्सप्रेसवे और इलिवेटेड रोड पर इन्हें लगाने के लिए प्राधिकारण और सरकार को प्रस्ताव भेजा जाएगा।

महामाया फ्लाईओवर और दलित प्रेरणा स्थल के बीच मे लगा है रडार

दुबई और यूरोपीय देशों मे होता है इस तकनीक का इस्तेमाल यह तकनीक अभी दुबई और कुछ यूरोपीय देशों मे ही काम कर रही। भारत मे पहली बार नोएडा से इसकी शुरुआत हुई है। फ्रांस की इसे लगाया है।

रडार डिटेक्टर ओवरस्पीड से चलने वाले ओवरटेकिंग करने वाले दुपहिया वाहनों पर तीन सवारी हेलमेट नही लगाने वाले वाहन चालक और लापरवाही से वाहन चलाने वालों को पकड़ रहा है। यह उपकरण करीब 500 मीटर की दूरी तक नजर रखता है।

इन्फ्रारेड सिस्टम वाहनो को आसानी से कैच कर कर लेता है

इस रडार मे 24 मेगापिक्सल के स्टिल कैमरे साथ ही विडियो कैमर लगा है। इसका इन्फ्रारेड सिस्टम रात मे जाने वाले वाहनों को आसानी से पकड़ लेता है। गाड़ियो के गुजरने के समय वह वर्चुअल इमेज बना लेता है। जिससे वह कैमर में दो डिंस्टेस के बीच मे वगे समय को कैद करता है। इसका कैमरा एक क्लिक मे 32 वाहनों को कैप्चर करता है। कैमरा 180 डिग्री तक घूम सकता है। जिससे वह 6 लेन मे जाने वाली गाड़ियो को एक साथ कैद कर लेता है।  

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

%d bloggers like this: